Tag : तामेश्वर सिन्हा

आदिवासी नक्सल वंचित समूह

6 दिनों से छः ग्रामीण मुगबर के शक़ में नक्सलियों की गिरफ्त में कोई खोजखबर नहीं.

News Desk
तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट दन्तेवाड़ा- छत्तीसगढ़ के बस्तर अन्तर्गरत दन्तेवाड़ा जिला के गुमियापाल गांव के 6 ग्रामीण पिछले 6 दिनों से नक्सलियों के चंगुल में...
आदिवासी

तामेश्वर सिंन्हा को अमर शहीद गैंद सिंह सम्मान.

News Desk
बस्तर- स्वतंत्र पत्रकार तामेश्वर सिन्हा को “आदिवासी जन चेतना क्रांति के क्षेत्र में अनवरत कार्य करने के फलस्वरूप अमर शहीद गैंद सिंह सम्मान से विश्व...
आदिवासी औद्योगिकीकरण प्राकृतिक संसाधन

बस्तर ःः पिपलावण्ड क्रेसर खदानों में पांचवी अनुसूचित क्षेत्र के प्रावधान का सरासर उलंघन . माफिया का कब्ज़ा .

News Desk
तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट  2.01.2019 बस्तर- एक तरफ छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल”जितने भी गौण खनिज है उसमें भी स्थानीय लोगों को अवसर देने...
आदिवासी आंदोलन औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन पर्यावरण प्राकृतिक संसाधन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति

पत्थर गढी से क्यों भयभीत है सत्ता प्रतिष्ठान और मीडिया .यह तो घोषणा है कि सरकारेँ संविधान का पालन करें ,और आदिवासी भी कानून की रक्षा करेगा . पत्थल गढ़ी पर विस्तृत चर्चा .

News Desk
24.04.2018 ** छतीसगढ मे जानबूझकर पत्थल गढ़ी को लेकर हड़कम्प मचा हुआ है, सामन्त से राजनीतिज्ञ बने नेता और मीडिया के एक दो समूह ने...
आदिवासी कला साहित्य एवं संस्कृति

पारी कुपार लिंगो पेन जतरा में लगा ‘हिंदू नहीं, हम गोंड हैं’ का नारा. : तामेश्वर सिन्हा ,फारवर्ड प्रेस

News Desk
फारवर्ड प्रेस से  आभार सहित . 6.04.2018 गोंड परंपरा के पेन पारी कुपार लिंगो की स्मृति में निकाला गया पेन जतरा कई मायनों में खास...
आदिवासी जल जंगल ज़मीन प्राकृतिक संसाधन

बैगा जनजातीय जो पहले से संकटग्रस्त जनजातीय में आते है वो आज विस्थापन के चंगुल में फंस गए है.: गांव से सीधे रिपोर्ट :, तामेश्वर सिन्हा

News Desk
  ग्राउंड रिपोर्ट छत्तीसगढ़(कवर्धा) छत्तीसगढ़ का पश्चिमी क्षेत्र में रहने वाले बैगा जनजातीय(आदिवासी) जो छत्तीसगढ़ के मध्यप्रदेश के सीमा में भी बसे है, बैगा जनजातीय...
आदिवासी नक्सल

सुकमा हमला : बिना किसी नीति के जवान मौत के मोर्चे पर तैनात! : तामेश्वर सिन्हा 

News Desk
   रायपुर/बस्तर, बुधवार , 14-03-2018रायपुर/बस्तर। बिना नक्सल नीति के अति उत्साह में सरकार ने जवानों को मौत के मोर्चे पर तैनात कर रखा है। नक्सल जिनकी पहचान...
आदिवासी जल जंगल ज़मीन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजनीति

हीरा निकालने के लिए ग्रामीणों को मारने की साज़िश! : जन चौक से तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट

News Desk
01.02.2018 एक नज़र इधर भी , रायपुर, बुधवार , 31-01-2018 जनचौक से आभार सहित  तामेश्वर सिन्हा  तामेश्वर सिन्हा रायपुर। 2010 में त्रिविक्रम श्रीनिवास के प्रोडक्शन में बनी साउथ की फ़िल्म...
अदालत आदिवासी आंदोलन औद्योगिकीकरण जल जंगल ज़मीन प्राकृतिक संसाधन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजनीति

जागरूक आदिवासी सरकार के लिए सिरदर्द, नक्सली बताकर ‘चुप’ कराने की कोशिश!: तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट ,जनचौक से

News Desk
स्पेशल रिपोर्ट , बस्तर, शुक्रवार , 05-01-2018 जन चौक से आभार सहित तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट बस्तर। छत्तीसगढ़ के आदिवासी जबसे भारत के संविधान में लागू अपने अधिकारों को...
आदिवासी राजनीति

आग,गोली,बारूद फिर इस साल बस्तर की झोली में आएगा या फिर पत्रकार अपना हेडलाईन नक्सलगढ़, लालआतंक,खूनी सड़के बनाएंगे? कब आएगा आखिर बस्तर का नया साल…?

News Desk
बस्तर में क्या नए साल में बेगुनाह आदिवासियों को न्याय मिलेगा या हर साल की तरह उनकी झोली में अन्याय ही आएगा? * तामेश्वर सिन्हा...