Tag : छतीसगढ बचाओ आंदोलन

जल जंगल ज़मीन

भाग -2 ..प्रस्तावित भारतीय वन ( संशोधित ) कानून , 2019 पर विस्तृत टिप्पणी . सब कुछ वन विभाग का .उन्हें गोली मारने का भी अधिकार.

News Desk
कल्पवृक्ष पूणे { कल्पवृक्ष के लिए नीमा पाठक ब्रूम , श्रुती अजित एवं मीनल त्रिपाठी ने तैयार किया .} प्रस्तुति विजय भाई . भाग एक...
आदिवासी आंदोलन किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन महिला सम्बन्धी मुद्दे राजनीति शासकीय दमन

राजनांदगांव ,किसान संकल्प यात्रा ःः राज्य सरकार के प्रति किसानों का आक्रोश राजधानी में प्रदर्शित न हो सके इसलिए किसान संकल्प यात्रा का बार बार दमन . .

News Desk
  शांति पूर्वक विरोध प्रदर्शन के लोकतांत्रिक व संवैधानिक अधिकारों को कुचल रही हैं रमन सरकार . 15.09.2018 ,रायपुर  जिला किसान संघ राजनांदगांव के द्वारा...
आंदोलन किसान आंदोलन राजनीति शासकीय दमन

राजनांदगांव के किसान 14 से करेंगे पदयात्रा, 17 को रायपुर पहुंचकर करेंगे आमसभा, सौंपेंगे ज्ञापन

News Desk
12.09.2018 / राजनांदगांव  राजनांदगांव के सैकड़ों अपनी विभिन्न मांगों को लेकर किसान जिला किसान संघ के झंडे तले 14 सितम्बर से राजनांदगांव से पदयात्रा शुरू...
अदालत महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार

छतीसगढ़ सरकार ने केन्द्रीय कानून और हाईकोर्ट के निर्देश के बाबजूद संविदाकर्मी महिलाओं को 6 माह का मातृत्व अवकाश आदेश जारी नहीं किया .: छतीसगढ बचाओ आंदोलन ने की मांग ,एक अप्रेल 2017 से लागू करे आदेश .

News Desk
31.07.2018 संविदाकर्मी महिलाओं को 6 माह का मातृत्व अवकाश देने बनाये गए केंद्रीय कानून को डेढ़ साल तक लागू न करना रमन सरकार का महिलाओं...
आदिवासी आंदोलन औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन दलित पर्यावरण प्राकृतिक संसाधन मजदूर महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति शासकीय दमन सांप्रदायिकता

रायपुर में विशाल धरना : छत्तीसगढ़ में “कानून का राज” या कानून एवं व्यवस्था कुछ हैं ही नहीं :  स्वामी अग्निवेश पर भाजपा के लोगों  द्वारा हमले की निंदा और हमलावरों पर कार्यवाही की मांग

News Desk
लोग भय, भूख और भ्रष्टाचार के तले दबते जा रहे हैं 17.07.2018/ रायपुर  लोकतान्त्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ जनसंगठनो...
अभिव्यक्ति आंदोलन औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति शासकीय दमन

लोकतांत्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ एक दिवसीय धरना 17 जुलाई को रायपुर में.

News Desk
15.07.2018 / रायपुर  लोकतांत्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन सहित अन्य जन संगठन संयुक्त रूप से दिनांक...
अभिव्यक्ति आदिवासी आंदोलन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति शासकीय दमन

मानवाधिकार कार्यकर्ता, ट्रेडयुनिनिस्ट, एवं हाईकोर्ट की अधिवक्ता सुधा भारद्वाज के खिलाफ फर्जी आरोप लगाने वाले अर्नव गोस्वामी और उनके चैनल की हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं .

News Desk
5.07.2018 रायपुर  छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन इन फर्जी दुष्प्रचारो और कार्यवाहियों का डटकर मुकाबला करेगा l छत्तीसगढ़ की वरिष्ठ मानवाधिकार कार्यकर्त्ता, ट्रेडयुनिनिस्ट, एवं हाई कोर्ट की...
आदिवासी आंदोलन औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन पर्यावरण महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजनीति शासकीय दमन

कॉर्पोरेट लूट हेतु छत्तीसगढ़ में अघोषित आपातकाल, लूट और दमन के खिलाफ जनसंगठनों द्वारा संयुक्त आन्दोलन का ऐलान .

News Desk
25.06.2018 रायपुर  छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन सहित अन्य जन आन्दोलनों की संयुक्त बैठक आज दिनांक 25 जून को शंकर नगर रायपुर में आयोजित की गई l...
औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन पर्यावरण राजनीति शासकीय दमन

छत्तीसगढ़ के वनों का विनाश जंगल – जमीन पर निर्भर समुदाय की खेती से नहीं, बल्कि खनन परियोजनाओं से हुआ हैं .: वन विभाग का यह कहना कि “वनाधिकार पत्र का वितरण हाथियों के हमले के लिए जिम्मेदार हैं” उसकी आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाता हैं .: छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन .

News Desk
18.06.2018/ रायपुर . छतीसगढ बचाओ आंदोलन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि ,   वन विभाग का यह प्रतिवेदन कि “वनाधिकार पत्र का वितरण हाथियों...
आंदोलन दलित महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति सांप्रदायिकता

महाराष्ट्र सरकार कानून के शासन की जगह प्रतिशोध की राजनीति बंद कर समाज के कमजोर वर्गों और नागरिक अधिकारों के लिए कार्यरत गिरफ्तार पांचों साथियों को रिहा करे .: छतीसगढ बचाओ आंदोलन.

News Desk
7 जून 2018 विगत 31 दिसम्बर को भीमा कोरेगांव शौर्य दिवस मनाते दलितों पर हमले हुए थे जिसमें दलित साथी घायल और शहीद हुए थे...