Tag : अजय चंन्द्रवंशी

कला साहित्य एवं संस्कृति

पुरातात्विक अध्ययन : छत्तीसगढ़ , छेरकी  महल शिव मंदिर : भोरमदेव : अजय चंन्द्रवंशी

News Desk
25.01.2019 भोरमदेव मंदिर के दक्षिण-पश्चिम में लगभग एक कि.मी. की दूरी पर चौरा ग्राम में एक ईंट-प्रस्तर निर्मित, पूर्वाभिमुख शिव मंदिर है,जो जनमानस में ‘छेरकी...
कला साहित्य एवं संस्कृति दस्तावेज़

पुरातात्विक दस्तावेज़ :     मड़वा महल शिव मंदिर: भोरमदेव  ; अजय चंन्द्रवंशी 

News Desk
19.01.2019 भोरमदेव के ‘मुख्य’ मंदिर के उत्तर में लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर प्रस्तर निर्मित एक शिव मंदिर है; जो जनमानस में ‘मड़वा महल’...
कला साहित्य एवं संस्कृति दस्तावेज़

दस्तावेज़ : पचराही का पुरातात्विक वैभव : अजय चंन्द्रवंशी 

News Desk
छतीसगढ़ के कबीरधाम जिले में भोरमदेव क्षेत्र अपने पुरातत्विक समृद्धि के लिए प्रसिद्ध है। प्राप्त शिलालेखों से 9वी से 17वी शताब्दी के लगभग इस क्षेत्र...
कला साहित्य एवं संस्कृति दस्तावेज़

पुरातात्विक दस्तावेज़ : योगी की मूर्ति और अभिलेख: भोरमदेव , छत्तीसगढ़ ; अजय चंन्द्रवंशी 

News Desk
16.01.2019  भोरमदेव मंदिर के निर्माता और काल निर्धारण में योगी की मूर्ति अभिलेख का महत्वपूर्ण स्थान है| यह अभिलेख भोरमदेव मंदिर के सभामंडप में रखी...
कला साहित्य एवं संस्कृति दस्तावेज़

पुरातत्व दस्तावेज़ : हरमो  का सतखंडा महल : अजय चंन्द्रवंशी

News Desk
15.01.2019 भोरमदेव क्षेत्र में फणिनागवंश का शासन भोरमदेव मंदिर के कारण प्रसिद्ध है.लेकिन कोई भी साम्राज्य चाहे कितना ही छोटा क्यों न हो, शासक वर्ग,...
कला साहित्य एवं संस्कृति

शाकिर अली ःः नये जनतंत्र में: समतामूलक समाज की चाह की कविताएं ःः समीक्षा , अजय चंन्द्रवंशी .

News Desk
  19.11.2018 अजय चन्द्रवंशी, कवर्धा(छ. ग.)क वरिष्ठ कवि और आलोचक शाकिर अली जी की पहचान मुख्यतः एक समीक्षक और एक्टिविस्ट के रूप में ही अधिक...