क्राईम पुलिस बिलासपुर विज्ञप्ति

पुलिस में नौकरी लगाने के नाम पर चार लाख की ठगी आरोपी को तारबाहर पुलिस ने किया गिरफ़्तर

बिलासपुर। मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी राकेश कुमार साहू निवासी ग्राम गोकुलपुर थाना कोटा बिलासपुर में दिनांक 01-11- 2021 को थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि वर्ष 2017 में इसकी पहचान उतई जिला दुर्ग के रहने वाले सुजीत कुमार नारंग से हुई। सुजीत कुमार नारंग स्वयं सरकारी नौकरी पर शिक्षक है उसने प्रार्थी को अपनी पहचान और शासकीय नौकरी दिलाने का विश्वास दिला कर तथा अधिकारियों से पहुंच बताकर प्रार्थी से पुलिस में नौकरी लगाने के नाम पर ₹400000 नगद लिया था और पुलिस में भर्ती नहीं कराया।

प्रार्थी के द्वारा नौकरी नहीं लगने पर अपना पैसा मांगने पर टालमटोल कर रहा था। नौकरी नहीं लगने पर जब प्रार्थी उसके घर पहुंचा तो आरोपी ने प्रार्थी को ₹200000 मई 2021 में वापस किया तथा बची हुई रकम का चेक दिया जो प्रार्थी के द्वारा बैंक में जमा करने पर चेक बाउंस हो गया इसके बाद आरोपी ने प्रार्थी से बातचीत करना और उसका फोन उठाना बंद कर दिया जिससे परेशान होकर प्रार्थी ने थाना तारबाहर आकर रिपोर्ट दर्ज कराई।

प्रार्थी की रिपोर्ट पर तत्काल अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया रिपोर्ट के संबंध में जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक झा,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक(शहर) उमेश कश्यप, नगर पुलिस अधीक्षक(सिविल लाइन) मंजू लता बाज को अवगत कराया गया जिस पर अधिकारियों द्वारा तत्काल आरोपी का पता तलाश कर गिरफ्तारी करने के निर्देश प्राप्त हुए जिस पर तत्काल थाना प्रभारी जेपी गुप्ता के निर्देशन में थाना तारबाहर से एक विशेष पुलिस टीम को आरोपी की तलाश हेतु जिला दुर्ग भेजा गया।

पुलिस टीम द्वारा आरोपी के निवास पर दबिश दी गई। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी पुलिस को गुमराह करता रहा बारीकी से पूछताछ करने पर उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि प्रार्थी से नौकरी लगाने के नाम पर ₹400000 लेकर धोखाधड़ी किया है आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया गया है।

Related posts

बस चालक संघ ने गुजाराभत्ता की मांग की, कहा सरकार कर रही अनदेखी

News Desk

नशीला सिरप बेचते 2 को सिविल लाईन पुलिस ने किया गिरफ़्तार

बिलासपुर: गरीबों की आवाज़ अधिवक्ता सुधा भारद्वाज की रिहाई की मांग को लेकर संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन

News Desk