किसान आंदोलन

देवजी पटेल के घर का किया किसानों ने घेराव .

छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ ने धरसींवा क्षेत्र के किसानों के साथ विधायक देवजी पटेल का निवास में घेराव किया, विधायको का घेराव प्रदेश भर में होगा

आज छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के द्वारा धरसींवा विधानसभा क्षेत्र के किसानों के साथ क्षेत्रीय विधायक देवजी पटेल का वादा खिलाफी को लेकर घेराव किया गया । आज सवेरे 9:00 बजे से किसान देवजी पटेल के निवास के आसपास एकत्र होने लगे थे । 
दोपहर 12:15 बजे किसानों की भारी नारेबाजी के बीच देवजी पटेल अपने निवास से बाहर आए और किसानो के साथ चर्चा की । इस दौरान उन्होंने कर्ज से किसानों की आत्महत्या नहीं करने की बात को जोर देकर कहा तो इस पर समस्त किसान बुरी तरह नाराज हो गए और उनकी तीखी बहस देवजी पटेल के साथ हुई । 
आज के घेराव में धरसीवा विधान क्षेत्र के गांव तिवरैया, कुकेरा, सेरीखेड़ी, धरसींवा, सिलतरा, सहित अनेक गांव के किसान एवं महिला कृषक उपस्थित थे । आज के आंदोलन का नेतृत्व आप किसान मोर्चा के संतोष दुबे, लखन साहू, हुलास साहू, कलानाथ गायकवाड,  जागेश्वर साहू, रामरतन साहू,  मैना रात्रे, रुकमणी साहू  रमेश कुमार,  रामजी साहू,  बद्री प्रसाद, चित्ररेखा साहू, बैसाखिन पाडे, घासी राम साहू उत्तम जायसवाल, दुर्गा झा, मोहम्मद हैदरी लक्ष्मण सेन, डॉक्टर संकेत ठाकुर आदि ने किया ।

किसान नेताओं ने देवजी पटेल को चुनाव के दौरान उनके संकल्पों को याद कराया,  जिसमें उन्होंने कहा था कि वह चुनाव जीतने के बाद किसानों को ₹300 बोनस, रु 2100 प्रति क्विंटल धान का समर्थन मूल्य, एक एक दाना धान की खरीदी, शून्य प्रतिशत ब्याज पर लोन और मुफ्त बिजली उपलब्ध कराएंगे ।

किसानों ने पूछा क्या हुआ आपको उन वादों का ? 14 वर्ष बीत रहा है लेकिन अभी तक एक भी मांग पूरी नहीं हुई है । किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन पत्र सौंपा,  जिसमे 2013 के संकल्पों को पूरा करने के साथ साथ कर्ज माफी, स्वामीनाथन कमेटी के अनुसार लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य, भूमि अधिग्रहण पर रोक लगाने की मांग की गई । किसानों के प्रश्नों के जवाब में देवजी पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री जैसे ही हिमाचल प्रदेश की यात्रा पूरी कर लौटेंगे उसी दिन वह किसानों की ज्ञापन को लेकर मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह से चर्चा करेंगे ।

किसान नेताओं ने देवजी पटेल से आग्रह किया कि वह भाजपा के संकल्प पत्र को लेकर प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक से फोन पर उनके सामने बात करें । लेकिन उन्होंने कौशिक जी मिलकर चर्चा करने का वादा किया ।
आज से किसान महासंघ के तय कार्यक्रम के तहत अब आरंग, राजिम, खल्लारी सहित अनेक विधानसभा के भाजपा विधायकों को 15 जुलाई के पूर्व घेराव किया जायेगा

**

Related posts

दस्तावेज़ ःः आंदोलनों पर बढ़ते राजकीय दमन के खिलाफ, राष्ट्रीय एकजुटता सम्मलेन, रायपुर ,छतीसगढ ⚫ रिपोर्ट ,प्रस्ताव एवं घोषणा पत्र

News Desk

मुख्यमंत्री बोनस देने की जवाबदारी से बचने की कोशिश ना करें

News Desk

छत्तीसगढ़ के किसान-आदिवासी दिल्ली रवाना : 21 को संसद के सामने करेंगे प्रदर्शन

Anuj Shrivastava