औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन प्राकृतिक संसाधन राजनीति

साजा विधायक घेराव से डरकर घर से गायब , बृजमोहन अग्रवाल पर एफआईआर दर्ज हो और उन्हें मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए . ये ,

किसानों के आंदोलन का असर साजा विधायक घेराव से डरकर घर से गायब हुए, सराईपाली में शाम 6.30 बजे तक घेराव .

बृजमोहन अग्रवाल पर एफआईआर दर्ज हो और उन्हें मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए  

**

छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ की मांग.

28.7.17

आज पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के द्वारा साजा और सराईपाली विधानसभा क्षेत्र के सैकड़ों किसान एकत्रित हुए । लेकिन अहिवारा में साजा के विधायक एवम संसदीय सचिव लाभचंद बाफना किसानों से मिलने की पूर्व स्वीकृति देने के बावजूद आज निवास से गायब रहे । उनके  परिजन भी कुछ बता नहीं सके । किसानों ने निवास के सामने गिरधर मढ़रिया, शक्ति सिंह, उत्तम चन्द्राकर, रवि ताम्रकार  के नेतृत्व में अहिवारा बस स्टेंड से रैली निकालकर विधायक निवास पहुंचे और आक्रोशित होकर नारेबाजी कर लौटे । इस अवसर पर किसान महासंघ के राज्य संयोजक मण्डल सदस्य तेजराम विद्रोही, पारसनाथ साहू, वीरेंद्र पांडे विशेष रूप से उपस्थित थे ।

सराईपाली में घेराव सफल
दूसरी ओर सराईपाली में विधायक रामलाल चौहान का घेराव सैकड़ों किसानों के द्वारा सफल रहा । पुरानी मंडी प्रांगण में किसान नेता टिकेश्वर मिश्रा, आशिक हुसैन, जयंती मिरी,  सतनाम सिंह, विनोद साहू, दस्तगीर खान के नेतृत्व में सैकड़ो किसान रैली निकालकर विधायक निवास पहुंचे । खास बात यह रही कि विधानसभा क्षेत्र के दर्जनभर गांवों उमरिया, डूमरपाली, सागरपाली, बिछिया, भोथलीडीह, बैडपाली आदि गांवों से महिला एवं पुरुष कृषक घेराव में शामिल हुए ।

रैली एवम घेराव के पूर्व बोनस बैठक मंडी प्रांगण में बोनस बइठका हुई जिसे आरंग, रायपुर, नया रायपुर और महासमुंद से आये किसान महासंघ के रूपन चन्द्राकर, पप्पू कोसरे, जुगनू चन्द्राकर, द्वारिका साहू एवम डॉ संकेत ठाकुर ने संबोधित किया ।  नेताओं ने किसानों से आव्हान किया कि वे 9 अगस्त को राजधानी रायपुर अवश्य पहुंचे, ताकि किसानो के साथ वादाखिलाफी करने वाले विधायको को विधानसभा जाने से रोका जा सके ।
किसानो के प्रश्नों से घिरे विधायक रामलाल चन्द्राकर ने ज्ञापन लेने के बाद मुख्यमंत्री तक मांग पहुचाने का आश्वासन दिया । किसानों ने उन्हें चेतावनी दी कि 8 अगस्त तक किसानों को बोनस, समर्थन मूल्य, कर्ज माफी सहित 7 सूत्रीय मांगे पूरीकरवाएं अन्यथा उन्हें विधानसभा में 9 अगस्त को घुसने नही दिया जायेगा ।

बृजमोहन अग्रवाल पर एफआईआर दर्ज हो और उन्हें मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए : छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ की मांग

राज्य सरकार की जांच समिति की रिपोर्ट आने के बाद अब यह स्पष्ट हो चुका है कि बृजमोहन अग्रवाल ने दान में दी गई भूमि को अवैध तरीके से खरीदी करना बताया । उन्होंने बहुत बड़ी जालसाजी करते हुए उस भूमि पर रिसोर्ट बनाया है ।
छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संयोजक मंडल सदस्य द्वारिका साहू, पप्पू कोसरे, पारसनाथ साहू, रूपन चंद्राकर, डॉ संकेत ठाकुर, जुगनू चंद्राकर, वीरेंद्र पांडे, गौतम बंदोपाध्याय, लक्ष्मीनारायण चंद्राकर, गिरधर मढ़रिया, राकेश तिवारी, उत्तम जायसवाल सहित 28 संगठन के समस्त प्रतिनिधियों ने मांग की है कि बृजमोहन अग्रवाल को अब मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह मंत्रिमंडल से तत्काल बर्खास्त करें और उन पर अपराधिक प्रकरण दर्ज करें ।

बृजमोहन अग्रवाल की बर्खास्तगी और एफआईआर की मांग को लेकर किसान महासंघ सोमवार 31 जुलाई को राज्यपाल से भेंट करेगा और उन्हें ज्ञापन सौंपेगा ।

**

डॉ संकेत ठाकुर

Related posts

फसल बीमा :भ्रष्टाचार निजी मामला कैसे, पूछा किसान सभा ने.

News Desk

स्थनीय माइन्स ऑफिस दल्ली राझहरा का घेराव : जनमुक्ति मोर्चा

News Desk

वरिष्ठ कवि राजेश जोशी की लेफ्ट फ्रंट यूट्यूब से गहन चर्चा . चार और एपीसोड .

News Desk