क्राईम छत्तीसगढ़ पुलिस बिलासपुर महिला सम्बन्धी मुद्दे राजनीति हिंसा

बदनाम कांग्रेस नेता के चेले चपाटे कर रहे लड़कियों के साथ छेड़छाड़ मारपीट

बिलासपुर। 26 दिसम्बर रात तारबहार थानांतर्गत स्थित एमिगोज़ बार के बाहर भास्कर वर्मा और गणेश चौधरी (आलू) नाम के दो बदमाशों ने एक युवती के साथ मारपीट, गाली गलौच और अभद्र अश्लील टिप्पणियां कीं। जानकारी मिली है कि भास्कर वर्मा चकरभाठा क्षेत्र का और गणेश चौधरी (आलू) रेल्वे क्षेत्र का रहने वाला है।

पीड़ित युवती का कहना है कि घटना की रात ये दोनों बदमाश बहुत नशे में थे। इन लोगों ने युवती को थप्पड़ मारा, उसके साथ गाली गलौच करते हुए कहने लगे कि “चल हमारी कार में बैठ तुझे जिंदगी का असली मज़ा देंगे”

कांग्रेस का एक बदनाम नेता ऐसे लोगों को बचाने थाने आया था

अपने साथ हुई अभद्रता की रिपोर्ट लिखवाने पीड़ित युवती पुलिस स्टेशन पहुँची। थाने में मौजूद लोगों ने बताया कि लड़कियों के साथ इस तरह की अश्लील घटिया हरकत करने वाले बदमाशों को बचाने और उनके खिलाफ़ हो रही FIR को रुकवाने की कोशिश करने शहर का एक बदनाम काँग्रेस नेता तारबहार थाने आया हुआ था। शहर के एक और बड़े नेता का नाम लेकर इस बदनाम काँग्रेस नेता ने FIR रुकवाने की बहुत कोशिश की लेकिन तारबहार पुलिस ने ईमानदारी से काम करते हुए आरोपियों पर 354(क), 294, 323, 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। आपको बता दें कि ये बदनाम कांग्रेस नेता वही है जिसका गाली गलौच वाला एक वीडियो कुछ दिनों पहले खूब वायरल हुआ था। बताते हैं कि ये बदनाम कांग्रेस नेता ऐसे बदमाशों को शै देकर रखता है और ज़मीनें खाली करवाने जैसे कार्यों में गुंडागर्दी करवाने के लिए इनका इस्तेमाल करता है।

सूत्र बताते हैं कि इन दोनों बदमाशों के खिलाफ़ पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। कुछ समय पहले तारबहार थाने के हुए बवाल में भी इन दोनो बदमाशों का शामिल होना बताया जाता है लेकिन इनपर अबतक कोई कड़ी कार्रवाई नहीं की गई है। पिछले SP ने तारबहार में हुए बवाल के बाद गुण्डा लिस्ट जारी करने की बात कही थी लेकिन बातें बातें बातें ही रह गाईं कार्रवाई कुछ नहीं हुई।

अब देखना है कि तारबहार पुलिस इस नए मामले के सामने आने के बाद क्या कार्रवाई करती है।

Related posts

Law Students Condemn Wrongful Arresting of Advocate Sudha Bharadwaj

News Desk

दस राज्यों से आये आदिवासी और जंगलवासी संगठनों के कार्यकर्ताओं नें वन अधिकार के लिये राष्ट्रीय आंदोलन का बिगुल बजाया : आदिवासियों व वनों में रहने वाले अन्य बाशिन्दों के राष्ट्रीय मंच – इज्ज़त से जीने का अधिकार अभियान. 

News Desk

सुकमा मुठभेड़ : आम निरपराध आदिवासियों को मारने का आरोप : मुख्यमंत्री ने कहा गोली खाओ या समर्पण करो ,सुरक्षा बलों ने 15 आदिवासियों को मार गिराया और गृहमन्त्री ने पीठ थपथपाई .

News Desk