Covid-19 छत्तीसगढ़ रायपुर शिक्षा-स्वास्थय

छत्तीसगढ़ : गर्भवती माताओं के लिए चल रही सेवा “102 महतारी एक्सप्रेस” 31 जुलाई से बंद हो सकती है

पत्रिका में प्रकाशित खबर के अनुसार महतारी एक्सप्रेस एंबुलेंस सेवा का संचालन करने वाली कंपनी JVK-EMRI ने 31 जुलाई से एंबुलेंस का संचालन बंद करने का फैसला ले लिया है। कंपनी ने यह जानकारी विभाग को देते हुए अपने 1750 अधिकारी कर्मचारियों की सेवा समाप्त करने की घोषणा भी कर दी है।

गर्भवती माताओं और उनके 1 साल की आयु के बच्चों को अस्पताल लाने, ले जाने वाली यह महत्वपूर्ण सेवा है अगर ये बंद होती है तो प्रदेश की हजारों माताओं पर इसका सीधा असर पड़ेगा।

पत्रिका ने लिखा है कि उनकी पड़ताल में सामने आया कि 2 साल, यानी जुलाई 2018 से विभाग और कंपनी के बीच विवाद गहराया हुआ है। जुलाई 2018 में कंपनी से अनुबंध समाप्त हो गया था। मगर विभाग द्वारा कहा गया कि नए टेंडर तक सेवाएं जारी रखें। तीन बार टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद कंपनी का चयन नहीं हो सका। फरवरी-मार्च में तीसरा टेंडर रद्द कर दिया गया है। इस तर्क के साथ कि योग्य कंपनी नहीं मिली। चौथा टेंडर निकाला जाएगा, मगर यह कोरोना काल में ठंडे बस्ते में चला गया है।

अख़बार ने लिखा है कि कंपनी की ऑपरेशन कॉस्ट ढाई करोड़ मासिक बैठती है। वह राशि भी बीते 2 महीने से आधी कर दी गई है। कंपनी का कहना है कि विभाग पुरानी दर पर ही काम ले रहा है, अब उस पर सेवा देना संभव नहीं है। 2013 में आई एंबुलेंस अब कबाड़ हो चुकी हैं। मेंटेनेंस लागत बढ़ती जा रही है। इन्हीं सब कारणों से कंपनी ने हाथ खींच लिया है।

Related posts

स्कूल की छत से गिरा प्लास्टर : हादसे के दूसरे दिन भी नहीं पहुंचे अफसर , जर्जर भवन में ही लगीं कक्षाएं , जिम्मेदारों को बड़े हादसे का इंतज़ार.

News Desk

आज जिस सेनेटाइजर को मंहगे में खरीद रहे हैं उसे बनाने वाले डॉक्टर को तब लोग पागल कहते थे

News Desk

9 अगस्त: अगस्त क्रांति की तरह आज से शुरू हो रहा है मजदूरों और किसानों का देशव्यापी आंदोलन, छत्तीसगढ़ के संगठन भी शामिल

Anuj Shrivastava