क्राईम छत्तीसगढ़ पुलिस रायपुर

छत्तीसगढ़ : जुआं खेलते पकड़े गए 7 पुलिसकर्मी

छत्तीसगढ़ की कवर्धा पुलिस ने, पुलिस विभाग की ख़राब छवि को और खराब कर दिया है। कवर्धा के 7 पुलिसकर्मी सूने मकान में जुआं खेलते पकड़े गए हैं।

कवर्धा के कोतवाली थानांतर्गत आने वाले घोठिया रोड के एक सूने मकान में दबिश देकर पुलिस ने 8 जुआरियों को रंगेहांथ पकड़ा। इनसे 25 हज़ार रुपए नकद ज़ब्त किए गए।

पकड़े गए इन में से जुआरीपुलिसकर्मी पाए गए

पकड़े गए जुआरी पुलिसकर्मियों में 4 आरक्षक, एक सहायक आरक्षक और दो नगर सैनिक शामिल हैं। इसके अलावा एक अन्य जुआरी भी है। रविवार रात घोठिया रोड स्थित एक सूने घर में जुआ खेला जा रहा था। मुखबिर के जरिए एसपी केएल ध्रुव को इसकी सूचना मिली। उन्होंने कोतवाली पुलिस की टीम को तुरंत रवाना किया। छापा मारने पहुंची टीम ने देखा कि जुआ खेलने वाले कोई और नहीं, बल्कि उनके अपने ही स्टाफ है। चूंकि एसपी ने कार्रवाई के लिए भेजा था, इसलिए जुआरी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर थाने लाया गया उनके खिलाफ जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की गई।

जुआ खेलते पकड़े गए आरोपियों में शिव साहू, रामविलास आडिले, लेखू सोनकर, आसिफ खान, विजय धुर्वे, राजू साकत, राधेश्याम बर्वे, मुकेश शर्मा शामिल हैं। आरक्षक राधेश्याम, रामविलास और लेखू कोतवाली थाना कवर्धा में पदस्थ है। वहीं आरिफ खान बाजार चारभाठा चौकी में कार्यरत हैं।

बिलासपुर: लॉकडाउन के दौरान काम में लापरवाही करने वाले पुलिसकर्मियों को SP ने जारी किया नोटिस

छत्तीसगढ़ पुलिस पर हैं हत्या बलात्कार किडनैपिंग जैसे आरोप

कवर्धा में जुआरी पुलिसकर्मियों का पकड़ा जाना पहली घटना नहीं है जब पुलिसकर्मी अपराध में संलिप्त पाए गए हों 

अंबिकापुर के पंकज बेक कस्टोडियल डेथमामले से लेकर बिलासपुर के पुलिसकर्मी द्वारा आदिवासी लड़की को जबरदस्ती बंधक बना कर रखने जैसे ढेरों मामले सामने आ चुके हैं लेकिन किसी भी मामले की अबतक ठीक से जांच ही नहीं की गई है, सज़ा मिलना तो दूर की बात है।

लौंण्डे-लफाटी जब जुआं और सट्टा जैसी बुराई और अपराध में लिप्त हो जाते हैं तो पुलिस ही उन्हें पकड़कर जेल भेजती है ताकि उन्हें गलती का अहसास हो और वे अपना जीवन सुधार लें। लेकिन ये छत्तीसगढ़ पुलिस है इस पर जुआं खेलने से लेकर हत्या, किडनैपिंग और बलात्कार तक के आरोप लग चुके हैं। पर पुलिस विभाग अपने कर्मचारियों की जांच ठीक से नहीं करता। कुछ महीनों के सस्पेंशन से खानापूर्ति कर दी जाती है। 

सातों जुआरी पुलिसकर्मी सस्पेंड

मामले में एसपी केएल ध्रुव ने विभागीय कार्रवाई करते हुए जुआ खेलते पकड़े गए सभी जुआरी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने कहा है कि पुलिसकर्मी अपनी जिम्मेदारियों को समझें और इस तरह की बुराइयों से दूर रहें।

Related posts

बिलासपुर : रिश्वत मांगता है महिला बाल विकास विभाग, HIV संक्रमित बालिकाओं के लिए काम करने वाली एक मात्र संस्था को बंद करवाने की हो रही साज़िश

Anuj Shrivastava

कोरोना रिकव्हरी: देश में छत्तीसगढ़ नंबर वन गुजरात सबसे पीछे

News Desk

बिलासपुर: IG दीपांशु काबरा ने अपना और पुलिस स्टाफ का कराया कोराना टेस्ट

Anuj Shrivastava