किसान आंदोलन

छत्तीसगढ़ में एक और किसान ने की आत्महत्या !”

6.10.2017

आज सुबह 7 बजे मिली किसान की पेड़ से लटकी लाश, ” छत्तीसगढ़ में एक और किसान ने की आत्महत्या !”

रायपुर लोकसभा के अंतर्गत बलौदाबाजर विधान सभा के थाना तिल्दा अंतर्गत ग्राम सरारीडीह से एक और किसान श्री ढाल सिंग वर्मा ने कर्ज के बोझ से फाँसी लगाकर आत्महत्या कर लेने की जानकारी गांव के उपसरपंच व आम आदमी पार्टी महिला विंग अध्यक्ष श्रीमती विमला टण्डन ने अभी अभी दी है।

प्रियंका शुक्ला की रिपोर्ट 

**

एक अन्य पोस्ट 

 

*कर्ज से दबे एक और किसान ने की आत्महत्या*
 प्रदेश में किसानों की आत्महत्या के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. कर्ज से दबे एक और किसान ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मामला तिल्दा के ग्राम सरारी़डीह का है यहां रहने वाला 28 वर्षीय किसान ढ़ालसिंह का शव गांव में ही एक पेड़ पर लटका मिला.
परिजनों के अनुसार किसान के ऊपर 7 लाख रुपए का कर्ज था. उसने अपने 1 एकड व रेगहा(किराए) पर लिए 7 एकड के खेत में धान की खेती की थी. पानी की कमी के कारण फसल पूरी तरह से चौपट हो गई थी. खेती बर्बाद होने और कर्ज का बोझ बढ़ने से किसान हमेशा चिंता मे रहता था.
आज सुबह वह घर से निकला और लगभग 2 किलोमीटर दूर ऊपरीभांठा में आम के पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. किसान के घर में बूढ़े माता-पिता, जवान पत्नी और तीन मासूम बेटियां हैं. किसान के इस आत्मघाती कदम के बाद पूरे गांव में शोक की लहर है.

Related posts

राजनंदगांव से हजारों किसान करेंगे मार्च 21 सितम्बर को घेरेंगे मुख्यमंत्री निवास

News Desk

जल पर प्रथम प्राकृतिक, मौलिक व संवैधानिक अधिकार आम जनता के पीने के पानी के लिए सुनिश्चित किया जाना चाहिए, तत्पश्चात कृषि के लिए और इसके पश्चात् लघुकुटीर उद्योगों के लिए तत्पश्चात पानी की क्षमता और उपलब्धता के अनुसार औधोगिक घरानों को देना सुनिश्चित किया जाना चाहिए : संघर्ष मोर्चा रायगढ

News Desk

तमोर पिंगला में अवैद्ध कटाई का मामला, ग्रामीणों ने किया चक्का जाम और कार्यालय का घेराव

News Desk