महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजनीति

बीएचयू के कुलपति को बर्खास्त करने और छात्रों पर मुकदमे वापस करने की मांग -आप बिलासपुर .

आज आम आदमी पार्टी बिलासपुर ने नेहरु चौक पर बीएचयू के उप कुलपति को बर्खास्त करने और छात्राओ के खिलाफ मुकदमे वापस लेने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन कलेक्टर को दिया.

 

महामहिम राष्ट्रपति महोदय
भारत सरकार, नई दिल्ली
द्वारा/ जिलाध्यक्ष महोदय, बिलासपुर (छत्तीसगढ़)

विषय- बीएचयू की घटना के सन्दर्भ में

महोदय,

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में उत्पीड़न और छेड़छाड़ से सुरक्षा की मांग कर रही छात्राओं की मांगों को नहीं सुनने और उनके शांतिपूर्ण आंदोलन को बर्बरता से कुचलने से हम सब आहत, जबकि जो भी नेता आज सत्ता में बैठे है वो भी छात्रराजनीति की उपज है। लगातार पिछले 2 सालों के अंदर विद्यार्थियों साथ होने वाली यह चौथी से पाचवी घटना है। जहां अगर विद्यार्थी अपनी बात रखना चाहा, तो कभी उसे देश द्रोही बना दिया जाता है तो कभी नक्सली कहकर संबोधित कर दिया जाता है।इन तमाम घटना के बाद BHU में हुई छात्राओं के साथ इस घटना से हम मर्माहत और क्षोभ से भरे हुए हैं।बीएचयू की विद्यार्थियों से एकजुटता प्रदर्शित करते हुए निम्नलिखित बातों की तरफ ध्यान आकृष्ट करते हुए ठोस कानूनी कार्रवाई की अपेक्षा करते हैं।

1 . बीएचयू की छात्राओं के साथ गंभीर किस्म की आपराधिक घटना के बाद भी विवि प्रशासन का तत्काल ध्यान न देना और कार्रवाई न करना घोर निंदनीय कृत्य है. इसके लिए जिम्मेदार विवि के अधिकारियों पर तत्काल सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाए.
2 . छात्र-छात्राओं के आंदोलन की अनदेखी कर विवि प्रशासन ने अपने दायित्व की अनदेखी ही नहीं की, बल्कि उसे बर्रबरतापूर्वक लाठी चलकर ख़त्म करने का प्रयास किया. इस साधारण नियम का भी ध्यान नहीं रखा गया कि छात्राओं के साथ पुरुष पुलिस कार्रवाई नहीं कर सकते. राज्य शासन और यूपी पुलिस महकमे की इस अनैतिक काम पर उनसे जवाब मांगने के साथ सम्बंधित अधिकारियों पर कार्रवाई सुनिश्चित किया जाए.
3 . विवि प्रशासन सहित कुलपति के रवैये ने छात्राओं के साथ घोर असंवेदशील रवैया अपनाया. अत: कुलपति सहित अन्य सम्बंधित अधिकारियों को तत्काल निलंबित कर जांच कराई जाए. अभी अपने पदों पर आसीन अधिकारी निष्पक्ष न्याय में बाधा बन सकते हैं.
4 . देश के समस्त विवि परिसरों में ठोस कार्यनीति बनाकर यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर रोक लगाने तत्काल कार्रवाई की जाए.
5 . सुरक्षा से सम्बंधित सभी व्यवस्थाएं फ़ौरन उपलब्ध कराने के साथ कुंठित और आपराधिक मानसिकता वाले तत्वों की निशानदेही किया जाए ताकि विवि परिसर ज्ञान और विवेक का परिसर बन सके,
6 . देश का विद्यार्थी वर्ग, नौजवान, अभिभावक, नागरिक सब बीएचयू की घटना से चिंतित हैं. बीएचयू सहित सभी विवि परिसरों में छात्राओं के सामान्य नागरिक अधिकार बहाल किया जाए. छात्रों से दोयम दर्जे का व्यवहार तुरंत बंद हो.
7. संस्थानों में cctv कैमेरा लगाया जाए।
8 . आंदोलनों के कुचलने के बर्बर तरीके, लाठी चार्ज, फायरिंग, बल प्रयोग का मनमाना उपयोग बंद किया जाए.
9. देश के सभी संस्थानों में “रोहित एक्ट” लागू किया जाए
10. BHU के छात्र/छात्राओं पर लगे मुकदमे अविलम्ब वापस लिया जाए।

महामहिम से अपेक्षा है कि इन बातों पर गौर कर उचित निर्देश जारी करेंगे।

आम आदमी पार्टी,बिलासपुर(छत्तीसगढ़)
7505954475

Related posts

नागरिकता कानून और NRC के खिलाफ हजारों लोग उतरे सड़कों पर, वाम नेतृत्व में किया विरोध प्रदर्शन

Anuj Shrivastava

पोडियाम पंडा (पूर्व सरपंच व सीपीआई,नेता) की गैरकानूनी हिरासत और लगातार प्रताड़ना

cgbasketwp

The UAPA and the New Kings . Prabhakar sinha.

News Desk