औद्योगिकीकरण किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन पर्यावरण प्राकृतिक संसाधन मजदूर राजनीति

संघ परिवार ने शुरू की मोदी की घेराबंदी, यशवंत सिन्हा के बाद अब BMS का हमला

जिस दिन यशवंत सिन्हा इंडियन एक्सप्रेस में लेख लिखकर जेटली पर निशाना साध रहे थे उसी दिन मोदी पर एक और हमला हो रहा था. संघ की सहयोगी संस्था भारतीय मज़दूर संघ ने यशवंत सिन्हा से भी ज्यादा कड़ी भाषा का इस्तेमाल किया है.

एक प्रेस विज्ञप्ति में सरकार के सलाहकारों को फॉल्टी बताया और सीधे विदेशी निवेश को की बकवास बताया. देश में सुधारों को दिग्भ्रमित बताते हुए भारतीय मज़दूर संघ ने कहा कि जल्द ही सरकार को एक पैकेज देना चाहिए जो नौकरियां बढ़ाने वाल हो.

तीन दिन पहले संघ के वृंदावन के आयोजन में भी मोदी को निशाना बनाया गया था जब पार्टी ने जीएसटी और नोटबंद पर खुद की पीठ थपथपाने की कोशिश की थी.

Related posts

सोमनी / बिसाहिन की जमीन चली गई पावर प्लांट में , न मिला मुआवज़ा और न बेटे को नोकरी ,यूनियन ने कहा हम लड़ेंगे हक़ की लड़ाई .

News Desk

दिल्ली हिंसा:AAP ने उपराज्यपाल आवास के बाहर डाला डेरा, सुरक्षा आश्वासन के बाद लौटे

News Desk

आम आदमी पार्टी छत्तीसगढ़ की राज्य कार्यकारणी की घोषणा .

News Desk