कोरबा: आंदोलन और घेराव के बाद घाटमुड़ा विस्थापितों का हाल जानने आए SECL गेवरा महाप्रबंधक, बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने दिया tp
किसान विरोधी कृषि कानून के खिलाफ छत्तीसगढ़ के किसानों समेत केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की देशव्यापी आम हड़ताल कल से
छत्तीसगढ़ में कस्टोडियल डेथ का एक और मामला: परिवार का आरोप कि पूछताछ के लिए ले गई थी पुलिस, पिटाई के बाद अस्पताल में हुई मौत

Category : मानव अधिकार

Covid-19 छत्तीसगढ़ फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट्स भृष्टाचार मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति वंचित समूह शिक्षा-स्वास्थय

छत्तीसगढ़ : स्वास्थ्य मंत्री के गृह ज़िले के कोविड अस्पताल में कीड़े वाला खाना परोसने की खबर चलाने वाले पत्रकार पर FIR दर्ज कर दी गई है

News Desk
सरकारी विज्ञापनों से पोषित सरकार का भोंपू बन चुके अख़बारों और चैनलों की सरकार की तारीफों में कसीदे पढ़ने वाली खबरें तो आप रोज़ ही...
अभिव्यक्ति आदिवासी छत्तीसगढ़ जल जंगल ज़मीन दस्तावेज़ मानव अधिकार शासकीय दमन

पेड़ से पूछ कर उसकी टहनी तोड़ने वाला आदिवासी समुदाय भला जंगलों के विनाश की स्वीकृति कैसे देगा? इसलिए अब उनकी सांस्कृतिक हत्या की साज़िश हो रही है

News Desk
written by Sanjay Parate किसी सभ्यता और संस्कृति को नष्ट करना हो, तो उसके पास जो जल, जंगल, जमीन, खनिज व अन्य प्राकृतिक संपदा है,...
प्राकृतिक संसाधन मानव अधिकार वंचित समूह विज्ञप्ति शासकीय दमन

दोहन का यह दबाव नर्मदा की हर बूंद निगल लेना चाहता है

News Desk
Written by Rajkumar Sinha मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वतंत्रता दिवस पर आयोजित मुख्य समारोह में घोषणा की कि नर्मदा के विकास के...
अभिव्यक्ति छत्तीसगढ़ महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार

‘डॉ. इलीना सेन’ छत्तीसगढ़ की फूल भी और चिंगारी भी

News Desk
डॉ इलीना सेन छत्तीसगढ़ के कई जनसंगठनों के साथ जुड़ी रहीं. इस प्रदेश के इतिहास में उनका एक विशेष स्थान है. इलीना का 9 अगस्त...
आदिवासी आंदोलन जल जंगल ज़मीन प्राकृतिक संसाधन मजदूर मानव अधिकार राजकीय हिंसा वंचित समूह शासकीय दमन

मध्यप्रदेश : ‘अंग्रेज़ों भारत छोड़ो’ की तर्ज़ पर चुटका परमाणु परियोजना के प्रभावितों ने ‘कंपनियां आदिवासी क्षेत्र छोड़ो’ का दिया नारा

Anuj Shrivastava
मध्यप्रदेश. ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ लड़ाई में 9 अगस्त 1942 को नारा दिया गया था कि अंग्रेजों भारत छोड़ो. 9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस के...
आदिवासी आंदोलन किसान आंदोलन जल जंगल ज़मीन मजदूर मानव अधिकार राजकीय हिंसा वंचित समूह शासकीय दमन

9 अगस्त: नर्मदा बचाओ आंदोलन के बैनर तले ग्राम पिछोडी में आदिवासी, किसान, मजदूर, कहार इत्यादि ने किया विरोध प्रदर्शन

Anuj Shrivastava
9 अगस्त किसान मुक्ति दिवस व विश्व आदिवासी दिवस के आयोजन में आज नर्मदा बचाओ आंदोलन के बैनर तले ग्राम पिछोडी में आदिवासी, किसान, मजदूर,...
अभिव्यक्ति आंदोलन किसान आंदोलन छत्तीसगढ़ मजदूर मानव अधिकार राजकीय हिंसा वंचित समूह शासकीय दमन

9 अगस्त: अगस्त क्रांति की तरह आज से शुरू हो रहा है मजदूरों और किसानों का देशव्यापी आंदोलन, छत्तीसगढ़ के संगठन भी शामिल

Anuj Shrivastava
छत्तीसगढ़ / बिलासपुर। 9 अगस्त को देशव्यापी मजदूर-किसान आंदोलन में प्रदेश के 25 किसान संगठन भी करेंगे हिस्सेदारी, प्रदर्शनों और सत्याग्रह के जरिये कॉर्पोरेटपरस्त नीतियों...
छत्तीसगढ़ जल जंगल ज़मीन पुलिस बस्तर मानव अधिकार राजकीय हिंसा

NHRC का छत्तीसगढ़ सरकार को आदेश: मानसिक प्रताड़ना के लिए नंदिनी सुंदर समेत 6 मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को एक-एक लाख मुआवजा दें

Anuj Shrivastava
राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने मानव अधिकारों की रक्षा के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठे मुक़दमे दर्ज करने के लिए एक-एक लाख रूपये...
आंदोलन किसान आंदोलन छत्तीसगढ़ मानव अधिकार

छत्तीसगढ़ : “कर्ज़ नहीं, कैश दो” के नारे के साथ मजदूर-किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन

Anuj Shrivastava
मजदूर-किसान संगठनों के देशव्यापी आह्वान पर आज यहां छत्तीसगढ़ में भी राजनांदगांव, बस्तर, धमतरी, बिलासपुर, दुर्ग, कोरबा, सरगुजा, बलरामपुर, रायपुर, महासमुंद, रायगढ़, चांपा-जांजगीर, सूरजपुर, कोरिया,...
आदिवासी क्राईम छत्तीसगढ़ पुलिस भृष्टाचार महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार

पंकज बेक कस्टोडियल डेथ: हत्या के आरोपी पुलिसकर्मी SP ऑफिस में पीड़िता को धमकाकर ले रहे मनमाना बयान

Anuj Shrivastava
छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर की रहने वाली आदिवासी महिला रानू बेक का कहना है के अंबिकापुर पुलिस ने उसके पति पंकज बेक को पुलिस स्टेशन...