Uncategorized

दलित सीएमओ हूं, इसलिए मंत्री कर रहे प्रताड़ित, न्याय न मिला तो कर लूंगा आत्मदाह”

“दलित सीएमओ हूं, इसलिए मंत्री कर रहे प्रताड़ित, न्याय न मिला तो कर लूंगा आत्मदाह”

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2016-10-27Time : 17:49:19 PM

रायपुर। बीजेपी शासित राज्यों में दलितों पर अत्याचार और शोषण की खबरें आना आम बात हो गई हैं फिर चाहे व्यक्ति किसी भी पद पर क्यों न हो। ऐसी ही एक खबर बीजेपी शासित छत्तीसगढ़ से आई हैं जहां एक सीएमओ को दलित होने की वजह से विभागीय अफसरों द्वारा आए दिन प्रताड़ित किया जाता है। सीएमओ ने नगरीय मंत्री और विशेष सचिव पर इस तरह के आरोप लगाए हैं।

तिल्दा नगर पालिका के पूर्व सीएमओ हेमशंकर देशलहरा ने संवाददाताओं कहा कि दलित होने की वजह से मुझे नगरीय मंत्री अमर अग्रवाल और विशेष सचिव रोहित यादव द्वारा आए दिन प्रताड़ित किया जाता है। मैंने राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर न्याय मांगा है, न्याय न दिलाने पर मुझे आत्मदाह करने की अनुमति दी जाए, एक सप्ताह के भीतर मेरे मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई तो मुख्यमंत्री निवास के सामने मैं आत्मदाह कर लूंगा।

सीएमओ का कहना है कि मुझे जातिगत प्रताडऩा किए जाने की शिकायत अनुसूचित जाति आयोग ने सही पाई और नगरीय प्रशासन विभाग से तीन महीने में आयोग ने प्रतिवेदन मांगा, मगर अभी तक विभाग ने नहीं भेजा। एक घंटे में विभागीय जांच पूरी कराकर मुझे निलंबित कर दिया, मगर विभाग में आर्थिक अनियमितता करने वाले आज भी अपने पदों पर जमे हुए हैं।
सीएमओ ने कहा कि मेरे ऊपर तिल्दा नगर पालिका अध्यक्ष महेश अग्रवाल ने जानलेवा हमला किया, इसकी शिकायत की, मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई। सीएमओ ने कहा कि मंत्री और विशेष सचिव का नार्को टेस्ट करा लिया जाए यदि मुझको प्रताडऩा आदि के लगाए गए आरोप गलत निकले तो मुझे नौकरी से बर्खास्त किया जाए।

उन्होंने कहा कि तिल्दा नगर पालिका अध्यक्ष महेश अग्रवाल नियम विरुद्ध कार्य करने के लिए मुझसे कहते रहे, मैंने यह काम करने से मना कर दिया। अग्रवाल ने एक नहीं कई आर्थिक व प्रशासनिक अनियमितताएं की हैं, उनके विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। नगर पालिका तिल्दा के सीएमओ कार्यकाल से पहले जो गड़बड़ी हुईं, उसके लिए मुझे दोषी बताकर कुछ दिनों पूर्व सस्पेंड कर दिया। उन्होंने मंत्री अमर अग्रवाल पर महेश के साथ की जाने वाली हेराफेरी और आर्थिक अनियमितता में संलिप्त होने का आरोप लगाया।

 ***

Related posts

कोयला आंदोलन : महिलाओं ने कहा,उत्खनन गैरकानूनी तो जेल में डालो

cgbasketwp

सुप्रीम कोर्ट ने 214 कोल ब्लॉक का आवंटन किया रद्द

cgbasketwp

पहले देश मे एक तरह के नक्सली होते थे ,

cgbasketwp