Uncategorized

गैस रिसाव में मज़दूर की मौत ;छत्तीसगढ़

गैस रिसाव में मज़दूर की मौत ;छत्तीसगढ़ 

Friday, September 11, 2015
[सीजी खबर ]
A A

Print Friendly
शव
रायगढ़ | संवाददाता:छत्तीसगढ़ के खरसिया के मोनेट इस्पात में एक मज़दूर की मौत हो गई है.बताया जा रहा है कि मोनेट पावर प्लांट में गैस रिसाव के कारण कुछ मज़दूर बेहोश हुये और उनमें से दो लोगों की हालत गंभीर हो गई. अभी तक कम से कम एक मज़दूर की मौत की पुष्टि हुई है.
जबकि एक अन्य मज़दूर को गंभीर हालत में जिंदल के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि यह प्लांट रखरखाव के लिये बंद किया गया था और मजदूर इसी रखरखाव में जुटे हुये थे.
घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार मोनेट के अधीन संचालित ठेका कंपनी नव इंजीनियरिंग फर्नेश प्लांट पिछले कुछ दिनों से बंद था. प्लांट को पुनः चालू करने के लिए शुक्र वार को दोपहर 5-6 मजदूर वहां साफ-सफाई कर रहे थे. बताया गया कि फर्नेश प्लांट में रॉ मटेरियल को गलाने के लिए कार्बन मोनो आक्साइड गैस भारी मात्रा में एकत्र की गई थी. काफी दिनों से बंद पड़े होने के कारण गैस टैंक से रिसाव हो रहा था. यहां पहुंचते ही मजदूर गैस की चपेट में आ गए.
इसके कारण यूपी के जफरपुर निवासी जीसीपी ऑपरेटर दुर्गेश यादव उम्र 30 वर्ष और उसका सहकर्मी गोरखपुर निवासी जितेन्द्र गुप्ता उम्र 26 वर्ष बेहोश हो गए. अन्य मजदूरों पर भी गैस का असर हुआ किंतु उनकी हालत नियंत्रण में रही. गंभीर रूप से गैस से प्रभावित मजदूरों को तत्काल वहां से बाहर निकाला गया और निजी अस्पताल पहुंचाया गया. दुर्गेश यादव ने जहरीली गैस का असर अधिक होने के कारण अस्पताल में दम तोड़ दिया.

Related posts

‘सर मैंने पुरस्कार वापस करने वाले साहित्यकारों का विरोध किया.” -अनुपम खेर पे केंद्रित

cgbasketwp

संविधान और सामाजिक न्याय के लिए वकीलों को एकजुट होना होगा – छत्तीसगढ़   आल इण्डिया लायर्स यूनियन . प्रदेश में अधिवक्ताओ के हितो और समस्याओ की विस्तार से चर्चा और महत्वपूर्ण निर्णय /राज्य स्तरीय कार्यकारिणी का नामांकन .

News Desk

विशेषज्ञों के अनुसार, महिलाओं की मौत के लिए दवा जिम्मेदार?

cgbasketwp