Uncategorized

माओ वादियों के आत्मसमर्पण पे कांग्रेस ने उठाये सवाल , पुलिस समपर्ण की आड़ में कोई नई पठकथा लिखी जा रही हैं। इस पठकथा का खुलासा होना चाहिए।

माओ वादियों  के आत्मसमर्पण पे कांग्रेस ने उठाये सवाल ,   पुलिस समपर्ण की आड़ में कोई नई  पठकथा  लिखी जा रही हैं।  इस पठकथा का खुलासा  होना चाहिए।  

पिछले दिनों से छत्तीसगढ़  में अचानक माओवादियों के आत्मसमर्पण की कहानिया मीडिया में छप  रही है ,इसकी सत्यता पे कांग्रेस के अध्यक्ष  भूपेश बघेल ने प्रशन उठाये हैं , उन्होंने कहा की पुलिस भोले भाले आदिवासियों को समर्पण करके वाह  वाही लूट रही हैं ,
अभी हल में दो हार्ड कोर माओवादी बता के समर्पण कराया गया ,जब की हकीकत ये है की चेतराम सलाम की पत्नी मञ्जूषा खाना बनाने का काम करती हैं ,बाघेल ने कहा की जिस पुलिस अधिकारी ने समर्पण की बागडोर सम्हाली हैं उसके फर्जी कारनामे सब जानते हैं ,उन्होंने इन आई ये के जाँच के तरीके पे भी सवाल उठाये ,कहा  की इसने अभी तक बस्तर और सुकमा के पुलिस अधिकारियो और इंटेलिजेंस प्रमुख तक से पूछताछ नहीं की ,जिससे संदेह पैदा होता हैं ,एनआईए को हर हालत में पुलिस अधिारियो का नार्को टेस्ट करवाना चाहिये।

बघेल ने कहा की झीरम घाटी के हमले में सरकार और उसके लोग शामिल हैं , ये तभी संभव है जब इसमें पुलिस के लोग शामिल हों  ., ऐसा लगता है की पुलिस समपर्ण की आड़ में कोई नई  पठकथा  लिखी जा रही हैं।  इस पठकथा का खुलासा  होना चाहिए।  

Related posts

जश्पुर के कापू में हुई मानव तस्करी पे जनसुनवाई

cgbasketwp

शर्म हो तो मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए

cgbasketwp

Nine reasons why the President should refuse to pass the new Gujarat anti-terror bill

cgbasketwp