Uncategorized सांप्रदायिकता

अन्य धर्मों के विस्तार पर रोक लगे , प्रबल पताप सिंह जू देव, भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष छत्तीसगढ़

अन्य धर्मों के
विस्तार पर रोक लगे , प्रबल
पताप सिंह जू देव, भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष छत्तीसगढ़
   
   लव जेहाद के खिलाफ प्रबल की हुंकार  ,  भूचाल लाने वाला
बयान
     ****
 बलरामपुर ,छत्तीसगढ़ /
विश्व हिंदू
परिषद के आह्वान पर बलरामपुर जिले के शंकर गढ़ में विशाल हिन्दू सम्मेलन के आयोजन
के दौरान भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष प्रबल प्रताप जूदेव ने लव जेहाद की चर्चा के
साथ अन्य धर्मों के प्रचार प्रसार पर रोक लगाने संबंधी बड़ा बयान देकर प्रदेश की
हिन्दू राजनीति में उबाल  ला दिया है
.
 मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद उत्तरप्रदेश में मिली बड़ी
जीत ने हिंदूवादी भावनाओ को मुख्यधारा में ला दिया है lछत्तीसगढ़ में  हिंदूवादी विचारधारा के प्रवर्तक प्रबल प्रताप
जूदेव की आदित्यनाथ योगी से मुलाकात के बाद प्रदेश में  नई सियासत का प्रादुर्भाव हुआ है l हिन्दू सम्मेलन में लव जेहाद के साथ अन्य
धर्मों के विस्तार पर रोक के  बयान को नई
रणनीति से जोड़ कर देखा जा रहा है l लव जेहाद के
आंकड़े इस प्रदेश में तेजी से बढ़े है l
विश्व हिंदू परिषद
ने इन तेजी से बढ़ते आकड़ो पर गहरी चिंता व्यक्त की है l पिता दिलीप सिंह
जुदवे के ऑपरेशन घर वापसी की कमान संभालने के बाद 
हिन्दू सम्मलेन के इस मंच पर प्रबल प्रताप जूदेव ने सीधे तौर पर लव जेहाद व
अन्य धर्मों के प्रचार पर रोक की बात कहकर हिंदुओ में नई चेतना का संचार  कर दिया है l यह बताना लाजमी होगा कि पूरे प्रदेश का हिन्दू समाज जुदवे
परिवार को एक भरोसे के रूप में देखता है l इस परिवार की ताकत का ही नतीजा है कि हिंदुओं की ओर किसी ने आज तक आंखे तरेरने
की जहमत नही उठाई l
 इस सम्मेलन में हजारो की संख्या में हिन्दू धर्म प्रेमियों
के समक्ष मंच पर विहिप के डॉ सुमन जी एवं साध्वी उर्मलिया की मौजूदगी में इस तथ्य
को मजबूती से रखा गया कि भारत अध्यात्म के क्षेत्र में पूरे विश्व का नेतृत्व करता
रहा है l देश को  किसी आयातित धर्म की आवश्यकता ही नहीं है l
उंसके बावजूद इस धरती पर सभी धर्मों को सम्मान
देने की परिपाटी रही है । अन्य धर्मों को देश की सरज़मी पर फलने फूलने का अवसर दिया
इसका खुलकर दुरुपयोग किया गया l
 हिन्दू धर्म और संस्कृति को समाप्त करने हेतु धर्मान्तरण का
कुचक्र रचा गया l लेकिन अब इसे
स्वीकार नही किया जाना चाहिए l इस हेतु भारतीय
संविधान में आवश्यक् संसोधनों की बात कहकर प्रबल ने  राजनैतिक बुद्धिजीवियों को चौका दिया l भारत की कोख से जिन धर्मो का प्रादुर्भाव हुआ
है उंसके अलावा किसी भी आयातित धर्म को भारत में प्रचार प्रसार का अधिकार समाप्त
किया जाना  चाहिये l अपनी धार्मिक मान्यता के अनुरुप वे पूजा पद्धति को अपनाए
लेकिन उनके प्रचार प्रसार पर रोक लगनी ही चाहिए l
 हिंदूवादी विचारधारा के पदचिन्हों पर अपने पिता का अनुशरण
करने वाले प्रबल प्रताप ने ऑपरेशन घर वापसी के बाद लव जेहाद का बयान देकर यह बात
कही कि प्रदेश में हिन्दू वादी विचारधारा की ओर नजर उठाकर देखने वालों का अंजाम
बुरा होगा l अन्य धर्मो के
प्रचार प्रसार पर रोक लगाए जाने के बयान से आने वाले दिनों में प्रदेश की राजनीति
गरमाये जाने की संभावना से कतई इनकार नही किया जा सकता l    
  गणेश अग्रवाल [9630188888]
  

                 

Related posts

ताड़मेटला कांड की जाँच में अभी तक गवाही ही नहीं हुई ,जो सत्य असब जानते है उसे खोजते है न्याय आयोग

cgbasketwp

छत्तीसगढ़ में सूदखोरी का सितम, 15 हजार किसान दफन

cgbasketwp

छत्तीसगढ़ के धमतरी के गुप्ता नर्सिंग होम ने मरीज को कथित तौर पर बंधक बनाया. :दबाब के बाद छोड़ा मरिज को .

News Desk