छत्तीसगढ़ बिलासपुर

बिलासपुर: ज़िले में 22 लाख बारदाने एकत्रित करने का लक्ष्य, 12 लाख बारदाने हो चुके हैं एकत्रित

बिलासपुर: धान खरीदी से पहले ही विपणन विभाग ने शुरू की तैयारी। युद्ध स्तर पर एकत्रित किया जा रहा पीडीएस का बारदाना। अब तक 12 लाख से अधिक बार दाने विभाग के पास पहुंचे।

बुलासपुर। छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है और दिवाली के बाद से ही सरकार द्वारा धान खरीदी की तैयारियां शुरू कर दी जाती हैं। पिछले वर्ष छत्तीसगढ़ सरकार ने रिकॉर्ड 93 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी पूरे प्रदेश भर से की थी इस बार पिछले वर्ष से भी अधिक धान खरीदी की उम्मीद जताई जा रही है।

इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विभागों ने अभी से युद्ध स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। धान खरीदी को लेकर बिलासपुर जिले में तैयारियां जोरों पर हैं अलग अलग विभाग संयुक्त तौर पर कार्य कर रहे हैं। खाद्य विभाग और विपणन विभाग द्वारा पीडीएस में उपयोग किए जाने वाले बारदाने को एकत्रित करने का काम किया जा रहा है।

विभाग द्वारा इस वर्ष बिलासपुर में 22 लाख बारदाने एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है जिस पर अब तक 12 लाख से अधिक बारदाने को एकत्रित किए जा चुके हैं। इसके अलावा विपणन विभाग के अधिकारी गजेंद्र राठौर ने जानकारी देते हुए बताया कि अब तक बिलासपुर जिले को 3 हजार नए गठन प्राप्त हो चुके हैं। नए गठन मिलने के बाद अब पीडीएस के जरिए उचित मूल्य की शासकीय दुकानों को दिए जाने वाले बारदाने एकत्रित करने का काम किया जा रहा है।

पूरे जिले में अलग-अलग ब्लॉक स्तर पर गाड़ियां चल रही हैं जो कि रोजाना हजारों की संख्या में बारदाने एकत्रित कर रही हैं। विभागीय अधिकारियों की मानें तो इस वर्ष धान खरीदी को लेकर सारी तैयारियां पहले ही पूरी कर ली जाएगी और खरीदी के दौरान उत्पन्न होने वाली बारदाने की कमी धान खरीदी केंद्रों में इस बार देखने को नहीं मिलेगी।

Related posts

बिलासपुर: IG दीपांशु काबरा ने अपना और पुलिस स्टाफ का कराया कोराना टेस्ट

Anuj Shrivastava

तेलंगाना से पैदल छात्तीसगढ़ आ रही महिला ने सड़क पर दिया बच्चे को जन्म, प्रसव के बाद जागा प्रशासन, खोखले हैं सरकार के दावे ?

News Desk

कोरोना : बिलासपुर कलेक्टर की अपील 31 मार्च तक रात 9 बजे के बाद घरों से न निकलें लोग

News Desk