पुलिस बिलासपुर विज्ञप्ति

बेहतर पुलिसिंग के लिए बिलासपुर पुलिस की नई पहल “वार्ड संगी”

बिलासपर। बेहतर पुलिसिंग के लिए बिलासपुर पुलिस द्वारा शहर के सभी वार्ड में वार्ड संगियों की नियुक्ति की गयी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा के द्वारा आज दिनांक 27-10 -21 को बिलासागुड़ी कॉन्फ्रेंस हॉल में शहर के सभी वार्ड में नियुक्त किए गए वार्ड संगियों की संयुक्त बैठक ली गई। बैठक में जिले के सभी राजपत्रित अधिकारियों के साथ शहर के सभी थाना प्रभारी एवं सभी वार्ड में नियुक्त वार्ड संगी भी उपस्थित रहे।

वार्ड के वरिष्ठजनों से वार्ड संगी जानेंगे समस्या

मीटिंग में पुलिस अधीक्षक के द्वारा सभी वार्ड में नियुक्त वार्ड संगियों से अलग-अलग विस्तृत रूप से सभी पहलुओं पर चर्चा की गई। प्रत्येक वार्ड संगी द्वारा वार्ड की विस्तृत जानकारी पुलिस अधीक्षक से साझा की गई। सभी वार्ड संगियों द्वारा अपने अपने वार्ड का नक्शा बनाकर क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति की जानकारी दी गई। वरिष्ठ जिसमें वार्ड में स्थित कॉलोनियों की जानकारी, कॉलोनी में सुरक्षा के दृष्टिकोण से सीसीटीवी कैमरे की जानकारी, सुरक्षा गार्ड के संबंध में जानकारी, कॉलोनी में सुरक्षा के दृष्टिकोण से निवासरत प्रत्येक व्यक्ति की जानकारी, वार्ड में रहने वाले रिटायर्ड व्यक्तियों तथा कालोनियों में होने वाली समस्याओं के संबंध में विस्तृत रूप से चर्चा की गई। इसके साथ ही वार्ड में रहने वाले हिस्ट्रीशीटर, निगरानीशुदा बदमाशों के संबंध में विस्तृत रूप से पूछताछ की गई।

वार्ड के किराएदारों की बनेगी सूची

प्रत्येक वार्ड की कॉलोनियों में निवास करने वाले किराएदारों की सूची के संबंध में पुलिस अधीक्षक के द्वारा विशेष निर्देश दिए गए। वार्ड संगियों द्वारा अपने क्षेत्र में होने वाली किसी भी प्रकार की संदिग्ध एवं अवैधानिक गतिविधियों की सूचना सम्बंधित थाना प्रभारी को दी जाएगी।

अच्छा काम करने वाले वार्ड संगी का सम्मान

वार्ड संगी की सूचना पर प्रभावी कार्रवाई करने पर पुलिस अधीक्षक के द्वारा उत्साहवर्धन कर इनाम प्रदाय किया गया। मीटिंग के दौरान वार्ड में उत्कृष्ट कार्य करने वाले वार्ड संगियों को पुलिस अधीक्षक के द्वारा प्रशंसा और कैश रिवार्ड देकर उत्साह वर्धन भी किया गया तथा लापरवाही बरतने पर कार्यवाही करने चेतावनी भी दी गई।

हैं वार्ड का बनेगा वाट्सऐप ग्रुप

पुलिस अधीक्षक के द्वारा सभी वार्ड संगियों को अपने वार्ड का व्हाट्सअप ग्रुप बनाकर अधिक से अधिक व्यक्तियों को जोड़ने के निर्देश दिये गए जिससे सूचना का आदान प्रदान सुचारु रूप से हो सके। वार्ड संगियों को अपने क्षेत्र में सतत निगाह रखने एवं निरंतर पेट्रोलिंग करने निर्देशित किया गया साथ ही प्रत्येक माह के पाक्षिक में वार्ड संगियों को अपने अपने वार्ड में वार्ड पार्षदों, वरिष्ठ नागरिकों, कालोनियों के पदाधिकारिगण एवं अन्य नागरिकों की मीटिंग निर्धारित कर क्षेत्र में के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा करने को कहा गया है।

15 दिन में होगी वार्ड संगी कार्यक्रम की समीक्षा

वार्ड संगी कार्यक्रम की समीक्षा हर 15 दिन में की जाएगी। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ साथ नागरिकों की रिपोर्ट पर त्वरित कार्यवाही करना है। वार्ड संगी के माध्यम से किसी भी सूचना का आदान प्रदान सरल करना इसका उद्देश्य है जिससे अपराध तथा अपराधियों पर निश्चित तौर पर अंकुश लगेगा।

Related posts

32वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह 18 जनवरी से 17 फरवरी तक

बिलासपुर: अवैध वसूली व स्कूल प्रबंधन की मनमानी के ख़िलाफ़ NSUI के किया प्रदर्शन

News Desk

दुर्गा विसर्जन में नियम तोड़ने वालों पर होगी कारवाई : उमेश कश्यप

News Desk