क्राईम पुलिस

छुट्टी मंज़ूर न होने पर सिपाही ने थानेदार को मारी गोली

भारत सम्मान समाचार में प्रकाशित खबर

उझानी/बदायूँ। कोतवाली में अचानक हुये इस घटनाक्रम में स्टाफ को जहां जगह मिली वहीं जान बचाने को छिप गये। गोली लगने के बाद एस०आई० व सिपाही को फौरन जिला अस्पताल लाया गया, जहां प्रारंभिक उपचार के बाद से दोनों को बरेली के मिशन अस्पताल रेफर किया गया। सूचना पर जिलाधिकारी सहित पुलिस अफसर जिला अस्पताल पहुंचे।

बताया जाता है कि उझानी कोतवाली में पदस्थ सिपाही ललित घर जाने को 10 दिन का अवकाश मांग रहा था। उसे तीन दिन का अवकाश दिया गया। इसी बात को लेकर वह खिन्न था। शुक्रवार सुबह वह कोतवाली पहुंचा जहां प्रभारी कोतवाल एस०आई० रामौतार से अवकाश को लेकर कहासुनी हो गयी। इसी बीच सिपाही ने कंधे पर टंगी एके 47 को उताकर फायर खोल दिया। उसके बाद सिपाही ने खुद भी गोली मार ली।

एसएसआई को दोनों पैरों में गोली लगी जबकि सिपाही के कंधे पर लगी। डीएम ने बताया कि अवकाश को लेकर कोतवाली में कहासुनी हुयी थी, सिपाही का चार दिन का अवकाश मंजूर हुआ था लेकिन वह ज्यादा दिनों का अवकाश मांग रहा था। कोतवाली के इंस्पेक्टर ओमकार सिंह कोरोना पीड़ति होने के चलते चार्ज एस०आई० पर था। दोनों घायलों को मिशन अस्पताल बरेली रेफर कर दिया गया है। मामले के जांच के आदेश दे दिये हैं।

Related posts

सिपत पुलिस स्टेशन के अधिकारी मिले कोरोना पॉजिटिव, कंटेनमेंट जोन घोषित कर किया गया सील

News Desk

14 लाख की संपत्ति के साथ करोड़ों की सट्टापट्टी ज़ब्त, सीएसपी के नेतृत्व में सिरगिट्टी पुलिस की कार्रवाई

मीडिया को मसाला मिल गया और पुलिस अधिकारयों की पर्सनल जिंदगी को वर्दी की साख से जोड़ दिया गया

Anuj Shrivastava