Uncategorized

इस थाने के ASI ने महिला सम्बंधी अपराध में आरोपी को बचाने ली 80000 की रिश्वत, रिश्वत लेने का वीडियो आया सामने

बिलासपुर। पुलिस द्वारा आरोपियों और प्रार्थियों से रिश्वत लिए जाने के कई मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। वर्तमान घटना ज़िले के सकरी थाना में पदस्थ एक एस आई द्वारा महिला सम्बंधी अपराध के आरोपी को जेल जाने से बचाने, जल्दी और कमज़ोर चालान पेश करने के एवज में 80000 रूपए रिश्वत लिए जाने की है।

आपको बता दें कि अवैध वसूली के मामले में बिलासपुर जिले की पुलिस बहुत चर्चित होती जा रही है। कुछ महीने पहले पचपेड़ी थाने के चार आरक्षक ऐसे ही मामले में लाइन अटैच हुए थे। फिर चकरभाटा थाने में 10,000 अवैध वसूली करते प्रधान आरक्षक का वीडियो वायरल होने के बाद उसे भी लाइन अटैच कर दिया गया था। थाना बिल्हा के आरक्षक द्वारा कोर्ट परिसर में अवैध वसूली करते वीडियो वायरल होने के बाद उसको भी लाइन अटेच कर दिया गया था।

वर्तमान में बिलासपुर जिले के सकरी थाने में एएसआई के पद पर पदस्थ शत्रुघ्न खूंटे द्वारा रिश्वत लिए जाने का ये वीडियो लगभग ढाई महीने पहले का बताया जा रहा है। उस समय एएसआई शत्रुघ्न खूंटे मुंगेली ज़िले के फास्टरपुर थाने में पदस्थ था। रिश्वत लेने की ये घटना मुंगेली के फास्टरपुर थाने की ही है। लगभग एक महीना पहले ही खूंटे का ट्रांसफर सकरी थाने में हुआ है।

रिश्वत लेते हुए पुलिस कर्मचारी

आपको बता दें कि शत्रुघ्न खूटे एएसआई मुंगेली जिले के फास्टरपुर थाने में पदस्थ था जहां पर महिला संबंधी अपराध दर्ज किया गया था जिसके आरोपी पक्ष से जल्द चालान पेश करने एवं जेल से जल्द छुड़ाने की बात कहकर उसने ₹1,00,000 की मांग की थी जिस पर आरोपी पक्ष द्वारा 20,000 तुरंत फिर दूसरे दिन ₹60,000 एएसआई शत्रुघ्न खूटे को दिया गया था जिसका वीडियो साफ-साफ दिखाई दे रहा है।

Related posts

सरकारी दस्तावेजों में शहीद शब्द की कोई व्याख्या ही नहीं कि गई ., आख़िर क्यों ?  यह भगत सिंह का भारत हैं ..’ राजेंद्र सायल

News Desk

यूपी की उथल-पुथल से निकले पाँच सवाल

cgbasketwp

भूमि अधिग्रहण अध्यादेश के खिलाफ पूरे छत्तीसगढ़ में भारी विरोध , रायपुर ,बिलासपुर , रायगढ़ ,धरमजयगढ़ और जशपुर में अध्यादेश जलाया गया ,राज्यपाल को ज्ञापन

cgbasketwp