Uncategorized

स्वतंत्रता दिवस पर जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा विभिन्न कार्यक्रमों में हुए शामिल, प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

सभापति गौरहा ने करमा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय व सेमरा प्राथमिक स्कूल में किया ध्वजारोहण

बिलासपुर। भारतवर्ष में स्वतंत्रता की 76 वर्षगांठ हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। हमारा देश करीब 200 साल बाद 1947 में आजाद हुआ उसमें कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने प्राणों की आहुति दे दी। इस दिन हम अपने राष्ट्र के गौरव तिरंगे को सम्मान देते हैं साथ ही उन वीर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को भी याद करते हैं जिनकी वजह से हमारा भारत देश आजाद हुआ है।

राष्ट्रीय पर्व पर बिलासपुर जिले में विभिन्न आयोजन हुए जिसमें जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा जिला पंचायत कार्यालय व विधायक कार्यालय बिलासपुर के कार्यक्रम में शामिल हुए व ग्राम पंचायत करमा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय व ग्राम सेमरा प्राथमिक विद्यालय में राष्ट्रीय ध्वज का ध्वजारोहण कर प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी।

ध्वजारोहण करते ज़िला पंचायत सभापति अंकित गौरहा।

अपने संबोधन में गौरहा ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां करोड़ों लोग विभिन्न धर्म परंपरा और संस्कृति के साथ निवास करते हैं और स्वतंत्रता दिवस के इस अवसर पर सभी पूरी खुशी के साथ उत्सव मनाते हैं। इस दिन हम सभी भारतियों को संकल्प लेना चाहिए कि भारत की एकता, अखंडता और मातृभूमि के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर देंगे। आज भी उन महान विभूतियों को याद करके आंखें नम हो जाती हैं जिन्होंने भारत की आजादी के लिए अपना सर्वस्व अर्पण कर दिया और आज हम सभी का यह दायित्व है कि देश की एकता उन्नति और प्रगति के लिए हम सभी मिलकर प्रयास करें।

इस अवसर पर रामकुमार शुक्ला, प्राचार्य रमेश तिवारी, ग्राम पंचायत करमा सरपंच सरोज राजकुमार कश्यप, सेमरा सरपंच उर्मिला कस्तूरिया, शाला विकास समिति के अध्यक्ष, पंच शैल बाई ध्रुव व स्कूल के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Related posts

? कलादास की 10 कवितायें : वंचितों मजदूरों किसानों , आदिवासियों और महिलाओं की आवाज़ .10 दिन की सीरीज़ .

News Desk

We are shown as surrendered Maoists: Sukma villagers

cgbasketwp

Appeal Letter for rejecting the Coal Mines (Special Provisions) Bill 2014

cgbasketwp