महिला सम्बन्धी मुद्दे

सूरजपुर : पाक बॉर्डर पर मानव तस्करों ने बनाकर रखा था दो युवतियों को बंधक , पुलिस ने छुड़ाया .

अपराध : किराए के मकान से नौकरी दिलाने के नाम पर दिल्ली ले गए थे आरोपी

2 बहनों को भारत – पाक बॉर्डर पर मानव तस्करों ने बनाकर रखा था बंधक , पुलिस ने छुड़ाया , 2 गिरफ्तार.

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क


सूरजपुर , सूरजपुर जिले के 2 सगी बहनों को नौकरी दिलाने के नाम पर एक युवक ने दिल्ली में बेच दिया था । इस सनसनीखेज मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली हैं । पुलिस ने बंधक बनाई गई दोनों बहनों को भारत – पाक सीमा से मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ा लिया है । मामले में पुलिस ने 2 मानव तस्करों को गिरफ्तार कर लिया हैं जबकि तीसरे को तलाश जारी है . कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर युवतियों को मुक्त कराने काम वहा जाकर किया.


सीएसपी डीके सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि प्रेमनगर के कंचनपुर निवासी 3 सगी बहनें रामेश्वरी कुजुर पिता गोरेलाल कुजूर 20 वर्ष अपनी 2 बहनों कलावती और सोनिया के साथ सूरजपुर से लगे ग्राम चंद्रपुर में किराए के मकान में रहती थी । उनका परिचित युवक शैलेंद्र टोप्पो भी साथ में ही रहता था । 1 फरवरी को इनकी मुलाकात ग्राम पलहा , प्रतापपुर निवासी रामसेवक टोप्पो से हुआ । वह काम दिलाने के नाम पर तीनों बहनों व शैलेंद्र को दिल्ली ले गया ।


कुछ दिन बाद शैलेंद्र और रामेश्वरी तो वापस आ गये लेकिन कलावती और सोनिया वापस नहीं आईं । इसी बीच इनमें से एक युवती का फोन इनके परिजनों के पास आया कि उन्हें बंधक बना लिया गया है । घर भी नहीं आने दे रहे तथा प्रताड़ित किया जा रहा है । इस बात की शिकायत उन्होंने रामसेवक से की तो उसने परिजन को भगा दिया । दरअसल रामसेवक में दोनों बहनों को दिल्ली में बेच दिया था इसके बाद परिजनों ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी । मामले में पुलिस ने प्रतापपुर निवासी रामसेवक , नई दिल्ली निवासी अशोक कुमार और नान्हू के विरुद्ध धारा 365ए 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया था ।

भारत-पाक सीमा स्थित श्रीगंगानगर में मिली बहनें

रिपोर्ट पर मामले की गंभीरता को देखते हुए सूरजपुर एसपी जीएस जायसवाल ने कोतवाली टीआई उमाशंकर सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की और एसआई रश्मि सिंह नेतृत्व में टीम को पहले दिल्ली रवाना किया । वहां से रामसेवक टोप्पो को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो भारत – पाक सीमा स्थित श्री गंगानगर राजस्थान में दोनों बहनों के होने की जानकारी मिली । इसके बाद पुलिस में नान्हू के ठिकाने पर दबिश दी और उसे हिरासत में लिया । उसकी निशानदेही पर पुलिस ने दोनों बहनों को बरामद कर लिया । पुलिस ने दोनों युवतियों को उसके परिजन के सुपुर्द कर दिया है । कारवाई से सार । टीआई उमाशंकर सिंह के नेतृत्व में उपनिरीक्षक रहिम सिंह , सहायक उपनिदाक कमल दास बनर्जी, आरक्षक लक्ष्मीनारायण मीरे,भीमेश आर्मो,साइबर सेल के युवराज सिंह और महिला आरक्षक बलकुमारी मिंज ने सक्रिय भूमिका निभाई

एक आरोपी छेड़छाड़ के मामले में है जेल में

पुलिस ने बताया कि इस मामले में रामसेवक टोपो पिता रघुनाथ टोप्पो उम्र 23 वर्ष निवासी प्रतापपुर और नान्हू कुमार पिता चौधरी कंवर उम्र 22 वर्ष निवासी सोहरपाथ नेतरहाट लातेहार झारखंड को गिरफ्तार किया गया है । वहीं एक आरोपी अशोक कुमार केवट पिता चरित्तर मुखिया उम्र 38 वर्ष निवासी नई दिल्ली वर्तमान में ‘ छेड़छाड़ और अपहरण के मामले में मंडला जेल में निरुद्ध है । स्थानीय न्यायालय से प्रोडक्शन वारंट प्राप्त कर उसकी भी जल्दी ही गिरफ्तारी की जाएगी ।

***

Related posts

पीयूसीएल छत्तीसगढ़ का दल सामाजिक बहिष्कार की घटनाओं की जाँच करेगा .

News Desk

आज साम्राज्यवाद व पूंजीवाद पूरी दुनिया के लिए चुनौती बना हुआ हेै इससे हमें एक-एक कर निपटना होगा.

News Desk

एक नागरिक का पयाम -लेफ़्ट फ़्रंट के नाम. : जुलैखा जबीं नई दिल्ली .

News Desk