अदालत आदिवासी महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजकीय हिंसा शासकीय दमन

सुप्रीम कोर्ट का निर्देश  ,: 13 अगस्त को सुकमा मुठभेड़ की सुनवाई .: जनहित याचिका में हत्या का मुकदमा चलाने ,दुबारा पोस्टमार्टम ,जज की अगुआई में न्यायिक जांच आदी कि मांग .

9.09.2018/ नई दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार की गई जनहित याचिका में कोर्ट ने निर्देश दिया है कि 13 अगस्त को सुकमा जिले में हुई एनकाउंटर की सुनवाई होगी.

6 अगस्त को सुकमा जिले में 15 आदिवासियों को पुलिस ने नक्सल के नाम पे मार दिया. इस हादसे के ऊपर एक जनहित याचिका प्रस्तुत की गई थी ,जिइस्की सुनवाई चीफ जस्टिस बेंच ने की और 13 अगस्त को सुनवाई रखी.

CLC (T) GS N ने याचिका में निवेदन करते हुए की आईपी सी 302 लगाया जाये पैरा मिलिट्री जवानों के ऊपर और न्यायिक जाँच हाई कोर्ट के न्यायाधीश के निगरानी में , तथा मृत लोगों की फिर से पोस्टमॉर्टेम की जाए. और विनती यह कि गयी थी कि सैनिकों कख प्रमोशन एवं सम्मानित करने से रोकख जाएऋ और सी बी आईं या एस आइ टी से जांच करवाई जाए.

याचिका कर्ता की ओर से वी राघुनाथ पैरवी कर रहे है.

Related posts

Full text: Arundhati Roy, Medha Patkar and others seek independent inquiry in CJI harassment case

News Desk

पत्नी ने डाल लिया मिट्टी तेल तो पति ने लगा दी आग , पत्नी की हुई मौत

News Desk

सेंट्रल पार्क कनाट प्लेस ःः कैंड्ल मार्च ” “उन्मादी भीड़ नहीं जागरुक नागरिक बनिये”…  आज 19 फ़रवरी) शाम 6 बजे सेंट्रल पार्क कनाट प्लेस पहुंचिये. देश के लिए अपनी ज़िम्मेदारी को ग़ुस्से में तब्दील कीजिये.

News Desk