आदिवासी मानव अधिकार

सामाजिक बहिष्कार अधिनियम का हर स्तर पर विरोध होगा .

छत्तीसगढ़ के विभिन्न समाज ने बैठक कर दी चेतावनी .
**

21 जून 2017 को श्री राम मंदिर वीआईपी रोड रायपुर के सभा हाल में छत्तीसगढ़ में निवासरत छत्तीसगढ़िया समाज के प्रमुखों की बैठक आयोजित की गई .
इस बैठक में उपस्थित सभी समाज प्रमुखों ने एक स्वर से छत्तीसगढ़ शासन द्वारा सामाजिक बहिष्कार अधिनियम 2016 का विरोध किया और कहा कि यह नियम अगर लागू हुआ तो समाज शब्द विलुप्त हो जाएगा ऐसी स्थिति में हमें एक होकर अपनी बातें शासन के समक्ष रखना चाहिए उपस्थित सभी लोगों ने संपूर्ण धाराओं के ऊपर चर्चा की तथा उसके लाभ एवं हानि के संबंध में संपूर्ण तथ्य संगत बातें रखी गई सभी समाज के लोगों ने अपने अपने समाज के संस्कृति रीति रिवाज सामाजिक परिवेश रहन सहन विभिन्न प्रकार की परिस्थिति को बैठक में रखा.

उपस्थित समाज प्रमुखों ने यह निर्णय लिया कि इसे एक सामाजिक आंदोलन के रूप में किया जाए जिसका तीन स्तर पर आंदोलन होगा पहला संभाग स्तर पर, दूसरा जिला स्तर पर, तीसरा विकास खंड स्तर, पर इसी के तहत कार्यक्रम तय किये गए ।
*
2 जुलाई को अंबिकापुर संभाग
3 जुलाई को बिलासपुर संभाग
4 जुलाई को दुर्ग संभाग और 5 जुलाई को बस्तर
संभाग में बैठक रखी गई है ,

इस बैठक में कलेक्टरों को ज्ञापन सौंपा जाएगा इसमें प्रमुख रूप से आदिवासी समाज के प्रदेश अध्यक्ष नवल सिंह मंडावी, साहू समाज के प्रदेश अध्यक्ष विपिन साहू ,कुर्मी समाज के प्रदेश अध्यक्ष सीताराम वर्मा ,गाडा समाज के प्रदेश अध्यक्ष अजय चौहान ,पटेल समाज के प्रदेश अध्यक्ष दुर्गा पटेल, सोनार समाज के प्रदेश अध्यक्ष श्रवण पटेल, हरदिहा साहू समाज के प्रदेश अध्यक्ष महानंद साहू, नाई समाज के प्रदेश अध्यक्ष प्रहलाद सेन, सर्व नाई समाज के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह, यादव समाज के सर्व यादव समाज के प्रदेश अध्यक्ष रमेश यादव यह सभी पदाधिकारी सभी संभाग के बैठक में भाग लेकर समाज को दिशा देंगे तथा इसी दिन कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा जाएगा समाज हित में हम सभी लोगों को एक होकर शासन के समक्ष अपनी बात को रखना पड़ेगा तभी हम इसमें सफलता हासिल कर सकते हैं और अगर इसमें पीछे हो गए तो समाज शब्द समाज का ताना-बाना सब खत्म हो जाएगा ऐसे ही स्थिति में हम एक सामाजिक प्राणी है और समाज के मान-सम्मान मर्यादा सब हमारे एकता पर प्रदर्शित करता है आपसे आशा ही नहीं पूरा विश्वास है कि आप इस कार्य में सभी लोग एक होकर सहयोग करेंगे .
**
(रमेश यदु प्रांताध्यक्ष सर्व यादव समाज के वाल से)

Related posts

किसानों को राजनांदगांव में नहीं दी रायपुर तक पदयात्रा की अनुमति ,.किया हजारों किसानोंं को गिरफ्तार .:. स्टेडियम को बनाया अस्थायी जेल . चारों तरफ हो रही है गिरफ्तारी की आलोचना .

News Desk

3 जनवरी ,जयंती के दिन विशेष / सावित्रीबाई फुले : स्त्री संघर्ष की मशाल

News Desk

गुरू घासीदास विश्वविधालय बिलासपुर ःः पीएचडी जैसी उच्च शोध उपाधि से गणेश कुमार कोसले को रोकना इसी मनुवादी व्यवस्था के तहत वही दृष्टांत उत्पन्न करना है

News Desk