राजनीति

शैलेन्द्र मेश्राम बौद्ध कल्याण समिति के अध्यक्ष चुने गए.


उत्तम कुमार, सम्पादक दक्षिण कोसल

कल ही मैं संस्कारधानी के प्रसिद्ध बौद्ध समाज के महत्वपूर्ण चुनाव को लेकर अपनी कयास को आप तक पहुंचाया था। चुनाव सम्पन्न हुआ शैलेन्द्र मेश्राम को 1304, पन्नालाल वासनिक को 521, राजेश भोईर को 149, राजकुमार नागदेवे को 516, विजय रंगारी को 19 तथा योगेश वाडकर को 121 वोट मिले। इस चुनाव में लगभग कुल सदस्यों 3490 मतदाताओ में से 2650 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिसमें 20 मत अवैध ठहराए गए। इस महत्वपूर्ण चुनाव को युवा और ओजस्वी नेतृत्वकर्ता शैलेन्द्र मेश्राम ने अपने निकटतम प्रत्याशी पन्नालाल वासनिक को 783 मतों से हराया। उन्होंने अपनी पहली प्राथमिकता में दक्षिण कोसल को कहा कि बौद्ध कल्याण समिति को जिले स्तर पर विस्तारित करने के कार्य को पहले पूरा करेंगे। कार्यकारिणी बनाएंगे और इसमें मोहल्ले और वार्ड से प्रतिनिधित्व को जोडक़र संगठन को लोकतांत्रिक बनाने की कोशिश करेंगे। इस तरह मोहल्ला तथा वार्ड के प्रतिनिधित्व के साथ केन्द्रीय समिति के बीच तालमेल को सुदृढ़ किया जाएगा और कम्युनिकेशन कर संगठन में लोकतांत्रिक विकेन्द्रीकरण कर एकरूपता लाने की कोशिश करेंगे।

 

महत्व की बात यह कि पूरे संगठन में बाबा साहेब,बुद्ध और बहुजनों के नायकों के सोच पर बल दिया जाएगा। इस तरह कहते हैं कि बौद्धिकता को प्रधानता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि हम 100 काम सोच रहे हैं अगर 25 भी कर ले तो हमारी युवा सोच जिसे लोग लडक़पन कहते हैं हमारी जोश और ऊर्जा बेकार नहीं जाएगी।मुख्यधारा के राजनीति में प्रतिनिधित्व के सवाल पर उनका कहना है कि इसके लिए समाज में राजनीति को लेकर समझाने चेतना का विकास करने की जरूरत है। विशेष तौर पर कहा कि एम्बस (आल इंडिया मूलनिवासी बहुजन समाज सेेंट्रल संघ ) की कुछ चीजें बहुत अच्छी है उनके कुछ गतिविधियों को पूरा किया जा सकता है और इससे बौद्ध कल्याण समिति में नई ऊर्जा आएगी । एक ही व्यक्ति के ऊपर सब कार्य का बोझ न हो इसलिए विकेन्द्रीकरण पर हमारा बल दिया जाएगा।

 

उन्होंने कहा हम पुराने काम करने के तरीको को लेकर व्यापक बदलाव करेंगे। हम नियमित काम कर रहे हैं और होश और जोश को बनाए रखने के लिए बुजुर्गो का मार्गदर्शन लेंगे। उन्होंने चुनावी घोषणा पत्र का उल्लेख करते हुए कहा कि तथागत गौतम बुद्ध और डॉ. बाबा साहेब भीमराव आम्बडकर व अन्य सभी मानवतावादी महापुरूषों के जीवन व कार्यों से अवगत करवाकर सर्वसमाज को सही दिशा प्रदान करेंगे। रमाबाई आम्बेडकर व सावित्री बाई फुले के जीवन संघर्ष से महलाओं को प्रेरित कर उन्हें सशक्त बनाने का प्रयास करेंगे। युवाओं के लिए स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने हेतु सार्थक प्रयास करने की दिशा में कार्ययोजना बनाएंगे। शासन-प्रशासन की समाज को ध्यान में रखकर बनाई गई योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाकर उन्हें लाभान्वित करने का प्रयास करेंगे। जाति प्रमाण पत्र की समस्या के समाधान व निराकरण का प्रयास करेंगे। बौद्ध कल्याण समिति की सदस्यता शुल्क को आम सभा के सहमति द्वारा कम करने का प्रयास करेंगे। वर्तमान सदस्यों को बायलाज के नियमानुसार आमसभा के सहमति से आजीवन सदस्य बनाया जावेगा, समाज के शिक्षित को बच्चें के उज्ज्वल भविष्य निर्माण में सहयोग करेंगे। समाज के अंतिम व्यक्ति को समाज के मुख्यधारा से जोडऩे का प्रयास करेंगे। संविधान के प्रति समाज को जागरूक करेंगे, व्यक्तित्व विकास हेतु शिविरों का आयोजन करेंगे।

abhibilkulabhi007@gmail.com
dakshinkosal.mmagzine@gmail.com

उत्तम कुमार ,संपादक ,दक्षिण कोसल 

Related posts

FACT SHEET ON RSS/BJP VIOLENCE IN KERALA

News Desk

हीरा निकालने के लिए ग्रामीणों को मारने की साज़िश! : जन चौक से तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट

News Desk

किसान मुक्ति मार्च : AIKSCC ने जारी किया भारतीय किसानों का घोषणापत्र.

News Desk