कला साहित्य एवं संस्कृति मानव अधिकार विज्ञान

रायपुर में रविवार को क्रिसमस की महारैली में पहली बार विशाल हुजूम उमड़ा, दस हज़ार से भी ज्यादा मसीही समाज के लोगों के साथ ही रैली का मार्गदर्शन करने के लिए समाज के सैकड़ों सम्मानित एवं वरिष्ठगण शामिल हुए।

रायपुर – क्रिसमस की महारैली में पहली बार उमड़ा विशाल हुजूम

By Puneet Nigam 2:52 pm
खुलासा टीवी से आभार सहित

रायपुर 20 दिसंबर 2017 (जावेद अख्तर).

राजधानी में रविवार को क्रिसमस की महारैली में पहली बार विशाल हुजूम उमड़ा, दस हज़ार से भी ज्यादा मसीही समाज के लोगों के साथ ही रैली का मार्गदर्शन करने के लिए समाज के सैकड़ों सम्मानित एवं वरिष्ठगण शामिल हुए। राजधानी रायपुर के जिन जिन गली मोहल्लों से रैली गुजरी हैप्पी क्रिसमस गूंजता रहा। इस बार सभी धर्मों के लोगों ने भी दिल खोलकर रैली का स्वागत किया तो मसीहियों ने भी उन्हें गले लगाकर क्रिसमस की शुभकामनाएं दीं।

बड़े दिन के रंग ढंग साज सज्जा व भारतीय परंपरा व संस्कृति की छटा बिखेरते हुए, मांदर व ढोल की थाप पर थिरकते लोगों की रैली धीरे-धीरे आगे बढ़ती गई। रैली का नेतृत्व कैथोलिक डायलसिस के आर्च बिशप जोसफ आगस्टिन व छत्तीसगढ़ डायसिस के बिशप राइट रेव्ह. रॉबर्ट अली ने किया। ये मसीही समाज की संयुक्त महारैली थी जिसमें करीब दस हजार से काफी अधिक लोग शामिल हुए। रैली के संयोजक जॉन राजेश पॉल ने समाजजनों की अपेक्षा पर घोषणा की कि अगले साल प्रदेश स्तरीय महारैली का आयोजन किया जाएगा। वहीं कोरबा मसीही समाज के सम्मानित ‘डिक्शन मसीह’ ने भी हर्ष जताते हुए मसीही समाज के साथ ही समस्त प्रदेश एवं देशवासियों को क्रिसमस की बधाई एवं ढेरों शुभकामनाएं दीं तथा खुलासा टीवी एवं सलाम छत्तीसगढ़ को बधाई संदेश भेजे। जिसके लिए खुलासा व सलाम परिवार ने कृतज्ञता जाहिर करते हुए उन्हें एवं समस्त मसीहीजनों को बड़े दिन की बधाई दी है।

मंत्री व अन्य नेताओं ने की आगवानी –

कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, विधायक सत्यनारायण शर्मा व श्रीचंद सुंदरानी, मनोनीत विधायक बर्नार्ड रॉड्रिग्ज, पूर्व विधायक कुलदीप जुनेजा, भाजपा प्रवक्ता, सच्चिदानंद उपासने, महापौर प्रमोद दुबे व सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा तथा जोगी कांग्रेस के नेताओं ने भी जुलूस की अगवानी की।

मसीही समाज के सम्मानितगण

रैली में आर्च बिशप ठाकुर व बिशप अली, पादरी शमशेर सेमुएल, कैपिटल पास्टर्स फैलोशिप के पादरी शिमोन पतरस, बिलिवर्स डायसिस, पास्टर्स एंड लीडर्स एसोसिएशन अध्यक्ष पादरी अनमोल कांबले, विकार जनरल फादर पी. सेबेस्टियन समेत प्रमुख रूप से फादर जॉन, पादरी स्टेनली विक्टर, पादरी सुनील कुमार, छत्तीसगढ़ डायसिस के सचिव प्रमोद मसीह, जेवियर प्रकाश, बसंत टिर्की, प्रेम मसीह, प्रमोद लाल, नितिन लारेंस, आनंद प्रकाश टोप्पो, अल्बर्ट कुजूर, निकोलस सिंग, जो फर्नांडीस, वीके सिंग, सुरेश मसीह, रीता चौबे, राजेश सेमुएल, मनीषा कुलदीप, सन्नी मैथ्यूस, डिक्सन बैंजामिन, मोनू डेनिएल, राहुल करीम, मनशीस केजू, शोमरोन केजू, सनातन सागर, समीर तिमोथी आदि उपस्थित थे।

राजधानी के चारों ओर से गुजरी महारैली –
रैली निकालने से पहले सभी चर्चों की संयुक्त आराधना हुई। जिसके बाद रैली सेंट पॉल्स कैथेड्रल से आकाशवाणी चौक, ओसीएम चौक, बैरन बाजार, महिला थाना चौक, पेंशन बाड़ा, विवेकानंद नगर, टैगोर नगर चौक मिशनरीज आफ चैरिटी तिराहा, श्याम नगर, लोधी पारा, शंकर नगर, पचपेड़ी नाका, सिद्धार्थ चौक, बूढ़ा तालाब, सदर बाजार, मालवीय रोड, जयस्तंभ चौक, नगर घड़ी चौक, सीएम आवास, कटोरा तालाब रोड, भगत सिंह चौक, पुलिस लाइन, सिविल लाइंस, सागौन बंगला चौक होते हुए वापस सेंट पॉल्स कैथेड्रल पहुंची।

पर्यावरण का संदेश देने के लिए ‘ग्रीन क्रिसमस-क्लीन क्रिसमस’ की टी-शर्ट समाज के लोगों द्वारा ने पहन कर रैली के चारों ओर व्यवस्थित पंक्ति बनाकर चल रहे थे, देखने व सुनने वाले प्रभावित हुए। रैली के माध्यम से क्रिसमस का संदेश देने के लिए ‘जिंगल-बेल-जिंगल-बेल, जिंगल-आल-दा-वे’ की धुन पर डांस करते एवं सजे-धजे घोड़ों पर सवार होकर निकले। इस बार रैली की सबसे खास बात, छग का आदिवासी नृत्य करते एवं झूमते नाचते मसीहीजन आगे बढ़ते गए। वहीं इसे अब तक सबसे बड़ी क्रिसमस रैली माना गया है। साथ ही पहली बार वॉकी-टाकी के जरिए वालंटियर्स ने रैली को कंट्रोल किया।

आकर्षक का केंद्र रही ये झांकियां –

– सुनहरे रंग की सांताक्लाज बने बच्चे सवार थे।
– फूलों से सजी खुली जीप में आर्च बिशप, बिशप व फादर्स तथा पादरीगण सवार थे।
– सेंट पॉल्स कैथेड्रल : बालक प्रभु यीशु के दर्शन करने बेतलेहम जाते तीन ज्योतिषि ऊंटों पर सवार थे।
– सेंट मैथ्यूस चर्च : चरणी और मरियम-युसुफ का गधे पर जनगणना कराने जाना।
– ग्रेस चर्च : बैतलहम में बड़ेदिन का दृश्य
– सेंट जोसफ महागिरजाघर : प्रभु यीशु का जन्म और स्वर्गदूतों का संदेश।
– सेंट जॉन द बैपटिस्ट चर्च कापा : प्रभु यीशु का जन्म और स्वर्गदूतों का संदेश।
– सालेम इंग्लिश स्कूल : क्रिसमस का संदेश वर्तमान परिप्रेक्ष्य में।

सभी राजनीतिक दलों ने किया स्वागत –
कांग्रेस :
अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ शारिक रईस खान, मनीष दयाल, शंटी चावला एवं अन्य।
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) :
अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ मखमूर इकबाल खान, मंडल अध्यक्ष सुदेश दास, जिला मंत्री सौरभ देव, सिविल लाइन मंडल अध्यक्ष मुकेश पंजवानी, कोषाध्यक्ष प्रतीक्षित मैथ्यूस, याकूब गनी, उर्मित खुराना।
छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस{जे} (छजकां) :
सागौन बंगला चौक पर इकबाल अहमद रिजवी व आसिफ मेमन, प्रसन्न पंडया व अन्य।

स्कूल, मंडल व संस्थाएं भी हुई शामिल –
सेंट मैरीस स्कूल पंडरी, मिशनरीज आफ चैरिटी, होली क्रास स्कूल, रेव्ह. संदीप लाल बिलिवर्स चर्च, सेवक सेनापति, रेव्ह. विकास मसीह मिलाप मसीही मंडली, पास्टर राजेश गार्डिया रायपुर बैपटिस्ट चर्च, सालेम इंग्लिश स्कूल, विलियम थियोफिलस गास मेमोरियल सेंटर प्रोग्राम सचिव, नीलेश राम एसपीसी, संजय सालोमन, निमेश जोएल, नवनीत जॉन, मनशीश केजू, विनोद लाल, फ्रेंकी मेनुएल, विजय कुमार कासू, मनीष दयाल, समीर तिमोथी, (सभी एसपीसी) । अल्बर्ट कुजूर सचिव सेंट जॉन चर्च कापा, एपी टोप्पो पूर्व सचिव कापा चर्च, केके केशरवानी बिलिवर्स चर्च, डॉ. प्रसाद एंजल्स इंग्लिश स्कूल, संडे स्कूल एसपीसी, सेंट मैथ्यूस चर्च, प्राचार्य सेंट पॉल्स इंग्लिश स्कूल, जोसफ महागिरजाघर बैरनबाजार, छत्तीसगढ़ होटल एंड रेस्टोरेंट वेलफेयर एसोसिएशन।

http://www.khulasatv.com/2017/12/252565.html?m=1#.WjpV6erA-vM.whatsapp

**

Related posts

SP Alwar stop defaming Umar and others while protecting the so called gau-rakshaks, Analysis of the Note called the SP note circulating in the media :PUCL Rajsthan

News Desk

स्थाई क्रूरता जो अगले युद्ध की भूमिका तैयार करती हैं इसी संदर्भ में कुमार अंबुज की यह कविता कुछ कहती है.

News Desk

शाकिर अली की दस और कवितायें. : बचा रह जायेगा बस्तर से …

News Desk