अभिव्यक्ति राजनीति

रायपुर : प्रार्थना सभा “सबको सन्मति दे भगवान” का हुआ आयोजन

रायपुर. 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती के अवसर पर आजाद चौक में गाँधी जी की प्रतिमा के समक्ष “सबको सन्मति दे भगवान्” प्रार्थना सभा का आयोजन गाँधी ग्लोबल फैमिली एवं गाँधी विचार परिषद् रायपुर द्वारा किया गया. इसका मुख्य उद्देश्य गाँधी जी के जन्मोत्सव को मानना और गाँधी की हत्या और हत्यारे गोडसे का समर्थन करने वालों का सत्य समाज के सामने लाना था. सभा में भजन के माध्यम से गाँधी जी को श्रधान्जली देते हुए उनके सत्य एवं अहिंसा के संदेशों को उपस्थित जन तक पहुँचाया गया. इनमें नई दिल्ली से प्रो. अपूर्वानन्द, गुजरात से प्रो. गौरंग जानी, उत्तर प्रदेश से प्रो. गौहर रजा ने सभा में अपने वक्तव्यों से गाँधी के विचारों की प्रासंगिकता और नई पीढ़ी तक उनके मूल्यों को पहुँचाने के चुनौती पर तर्कपूर्ण सन्देश दिए.

छत्तीसगढ़ राज्य से प्रमुख रूप से वरिष्ठ संपादक शललित सुरजन, सी पी आई नेता धर्मराज महापात्रा, राष्ट्रीय आन्दोलन फ्रंट से डॉ. विक्रम सिंघल, मुख्यमंत्री के सलाहकार रुचिर गर्ग व विनोद वर्मा, प्रियांक पटेल, प्रह्लाद पटेल, रमेश देवांगन. कार्यक्रम में भजन गायन पुरुषोत्तम मारकंडे, कुमकुम यादव एवं रंगीलाल डोंगरे के द्वारा किया गया. बच्चों और बड़ों ने गाँधी जी संदेशों को पेंटिग के माध्यम से प्रदर्शित किया. सभा के दौरान बच्चों को गाँधी जी की  किताब का वितरण किया गया.

शाम होते-होते भारतीय जनता पार्टी से सांसद सुनील सोनी, पूर्व मंत्री बृज मोहन अग्रवाल भी  गाँधी जी की प्रतिमा के पास आ ही गए. वक्तागण गांधी के हत्यारे गोडसे का सच बता रहे थे, बता रहे थे कि कैसे हत्यारा गोडसे आरएसएस की विचारधारा से प्रेरित था. ऐसे में आरएसएस की विचारधारा पर चलने वाली भाजपा के बड़े नेताओं का यहां उनकी मजबूरी मालूम पड़ रही थी.

सभा आयोजन के नेतृत्वकर्ता विनयशील ने कहा आज एक ओर केंद्र सरकार गाँधी को अपना आदर्श बताते हुए उनके लिए विभिन्न आयोजन कर यह प्रदर्शित करने का प्रयास कर रही है कि वे गांधी को मानते हैं. लेकिन दूसरी ओर वो गोडसे के पक्ष में न केवल बयान देते हैं वरन उसे पूजते भी हैं. इस सभा के आयोजन का उद्देश्य इसी मानसिकता को लोगों के सामने लाना है. सभा में उपस्थित विभिन्न संस्थाओं के सदस्य एवं आम नागरिकों ने भी सत्य को सब के सामने लाने के प्रयास में भरपूर योगदान दिया.

Related posts

अन्यायपूर्ण डूब के ख़िलाफ़ नर्मदा घाटी के संघर्षरत लोगों के समर्थन में सबकी आवाज़*

News Desk

पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने और पत्रकारों पर दर्ज मामले रद्द करने के लिये राज्य स्तरीय बेठक रायपुर में.

News Desk

सुप्रीम कोर्ट का निर्णय ःः आदिवासियों की बेदखली के खिलाफ़ राजनांदगांव में किसान संघ का धरना प्रदर्शन .रायपुर में भारी प्रदर्शन का एलान .

News Desk