आदिवासी आंदोलन किसान आंदोलन नीतियां मजदूर मानव अधिकार राजकीय हिंसा राजनीति

रायगढ़ मे भी दिखा भारत बन्द का असर

रायगढ़। 8 जनवरी के ग्रामीण भारत बंद और देशभर की ट्रेड यूनियनों के समूहिक आह्वान पर बुली गई आम हड़ताल का असर छत्तीसगढ़ के रायगढ़ मे भी दिखाई दिया।रायगढ़ के  सत्तीगुड़ी चौक में ट्रेड यूनियन कौंसिल के द्वारा केंद्र की किसान-मजदूर विरोधी नीतियों के विरोध में हड़ताल की और सभा का आयोजन किया। नारेबाज़ी करते हुए सट्टिगुड़ी चौक से बड़ी संख्या मे लोग कलेक्टर कार्यालय पाहुचे और ज्ञापन सौंपा।

हड़ताल मे शामिल गणेश कछवाहा ने बताया कि यह रैली सतिगुड़ी चौक से होते हुए बेटी बचावो बेटी पढ़ावो चौक (स्टेशन चौक), गांधी प्रतिमा चौक से होते हुए रायगढ़ कलेक्टरेट में जाकर तक गई और रायगढ़ कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

आज की हड़ताल में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्त और ट्रेड यूनियन की सभी सदस्य आज की शामिल रहे।

Related posts

नक्सली हमले से ज्यादा डेंगू और डिप्रेशन से जवानों की मौत! एक साल में 903 मौतें.

cgbasketwp

डिपोजिट 13 अदानी को सोंपने के खिलाफ पहुचे हजारों आदिवासी .सुबह चार बजे से गेट को किया जाम .पहली पाली में काम हुआ प्रभावित .

News Desk

अमेजॉन कम्पनी ने और उसके मालिक ने बेशर्मी की सारी हदें पार कर दीं हैं औरतों के मुँह पर तमाचा मारा है,सदियों से चले आ रहे स्त्री संघर्ष पर, स्त्री विमर्श पर थूका है मज़ाक उड़ाया है।

News Desk