आंदोलन दलित मानव अधिकार वंचित समूह

महान कवि मलखान सिंह की कविता सुनो ब्राम्हण पूरी सुन सकते है. संजीव खुदशाह की आवाज़.

इस लिंक में जाकर महान कवि मलखान सिंह की कविता सुनो ब्राम्हण पूरी सुन सकते हैं आप . डीएमए ओन लाईन इंडिया के लिये संजीव खुदशाह पढ रहे हैं कालजयी रचना ..

Related posts

ओबीसी वर्ग का आरक्षण 14% से 27% एवं एस. सी. वर्ग का आरक्षण 12% से 16% करने हेतु, “न्याय अधिकार पदयात्रा” का आयोजन, न्यायधानी बिलासपुर से राजधानी रायपुर तक

News Desk

पत्थर गढी से क्यों भयभीत है सत्ता प्रतिष्ठान और मीडिया .यह तो घोषणा है कि सरकारेँ संविधान का पालन करें ,और आदिवासी भी कानून की रक्षा करेगा . पत्थल गढ़ी पर विस्तृत चर्चा .

News Desk

सीआरपीएफ ने माना की सिपाहियों का मुठभेड़ में मारा जाना मानवधिकार का उलंघन नहीं .

News Desk