आंदोलन दलित मानव अधिकार वंचित समूह

महान कवि मलखान सिंह की कविता सुनो ब्राम्हण पूरी सुन सकते है. संजीव खुदशाह की आवाज़.

इस लिंक में जाकर महान कवि मलखान सिंह की कविता सुनो ब्राम्हण पूरी सुन सकते हैं आप . डीएमए ओन लाईन इंडिया के लिये संजीव खुदशाह पढ रहे हैं कालजयी रचना ..

Related posts

समर्थन मूल्य, कर्ज मुक्ति, बोनस, आदि मुद्दों को लेकर किसानों ने निकाली रैली : मोदी और रमन सरकार पर लगाया किसानों से विश्वासघात करने का आरोप : प्रगतिशील किसान संगठन

News Desk

नर्मदा बचाओ आन्दोलन के  उपवास का चौथा दिन, व जल सत्याग्रह का दूसरा दिन।

News Desk

एक तीर से दो निशाने : पत्थरगड़ी की कहानी खत्म और आदिवासियों की सैकड़ों एकड़ जमीन पर कब्जा ःः ग्लैडसन डुंगडुंग

News Desk