सांप्रदायिकता हिंसा

मदरसा शिक्षकको चलती ट्रेन से फेंका. तबरेज़ के बाद मोहम्मद शाहरूख .कोलकाता .

कोलकाता @ पत्रिका .

आज के पत्रिका अखबार के पांचवें पेज मे सिंगल कालम में खबर.

प . बंगाल में 26 साल के मदरसा शिक्षक ने दावा किया है कि उसे एक समूह ने जय श्री राम न कहने पर मारा पीटा और चलती ट्रेन से धक्का दे दिया । पीड़ित मोहम्मद शाहरुख हलदर गुरुवार को पैसेंजर ट्रेन से हुगली जा रहा था , तभी उसके साथ यह घटना घटी । हल्दर के मुताबिक घटना के बाद वह जब प्राथमिकी दर्ज कराने तपसिया पुलिस स्टेशन गया , तो उसे यह कह कर लौटा दिया गया कि ये मामला जीआरपी का है , वहीं दर्ज होगा ।

Related posts

कलकत्ता में जूनियर डॉक्टरों पर हुआ हमला निंदनीय, सरकार चिकित्सकों की सुरक्षा सुनिश्चित करे .डा.दिनेश मिश्रा

News Desk

साध्वी प्रज्ञा को लाकर बीजेपी ने अपना नजरिया स्पष्ट किया- जावेद अख्तर.

News Desk

विवेकानंद की सहिष्णुता के शिकागो में  :  “अकेले शेर और जंगली कुत्तों की”  : भागवत_कथा . : बादल सरोज 

News Desk