ट्रेंडिंग भृष्टाचार

बीजापुर : शराब दुकान में मिलीभगत के साथ हो रही हैं धांधली .दुर्व्यवहार और अवैध शराब का जोर .

एक बोतल शराब के पीछे 10 से 30 रुपये ज्यादा ले रहे सेल्समैन।

विरोध करने पर ग्राहकों से अभद्र व्यवहार करते हुए देते है गंदी गंदी गालिया।

ग्राहकों को नही दिया जाता बिल,ऊपर का पैसा डकार रहे है सेल्समैन

काले कारनामे को छुपाने विभागीय अधिकारियों ने जानबूझकर सीसी टीवी कैमरों को कराया खराब

सरकारी दुकान से आबकारी विभाग की सहमति से अवैध शराब जा रहा है कोचियों के पास

कुछ दिनों पहले ही अवैध शराब कोचियों को देने के मामले में चार सेल्समेनों को भेजा था जेल.

बीजापुर से पुष्पा रोकड़े की रिपोर्ट

बीजापुर-बीजापुर सरकारी दुकान और सरकार की सप्लाई की मात्र बीजापुर शहर में एक ही शराब दुकान है।जहाँ मदिरा प्रेमियों का मेला लगा रहता है। शराब के लिए ग्राहक किसी भी कीमत को अदा कर देते है।क्योकि उन्हें नशा चाहिए चाहे नशा के लिए कितने पैसों का भी नाश हो जाये उन्हें यह फर्क नही पड़ता।जिसका फायदा सेल्समैन उठा रहे है।

जिला मुख्यालय के जेलवाडा स्थित सरकारी शराब दुकान मैं कार्य करने वाले सेल्समैन ग्राहकों से एक बोतल शराब के पीछे 10 से 30 रुपये प्रिंट रेट से ज्यादा ले रहे है।ग्राहकों द्वारा विरोध करने पर अभद्र व्यवहार के साथ साथ गंदी गंदी गालिया भी देते है।सरकारी शराब दुकान से शराब खरीद रहे युवकों से पूछने पर पता चला दुकान के सेल्समैन एक बोतल शराब 10 से 30 रुपये प्रिंट रेट से ज्यादा लेकर बेच रहे है।ज्यादा पैसा क्यों देते हो पूछने पर ग्राहकों ने बताया विरोध करने पर दुकान मैं स्थित कर्मचारी शराब नही देने की बात बोलते है और ग्राहकों से अभद्र व्यवहार के साथ साथ गंदी गंदी गालिया भी करते है।साथ ही ग्राहकों को बोलते है शराब लेना है तो ज्यादा पैसा देना पड़ेगा नही तो शराब नही मिलेगा।इससे यह पता चलता है सरकारी शराब दुकान के कर्मचारियों द्वारा किस प्रकार ग्राहक के जेब मे डाका डाल अपनी जेब भरने मैं लगे है।

इतना ही नही दारू दुकान के चारो तरफ शराब की खाली बोतले तो अंदर कार्टून ही कार्टून बिखरे पड़े। जबकि दारू कि बोतलो को स्टोर कर कार्टून को भी अलग रखना चाहिए। मगर बीजापुर में लगता है आबकारी विभाग को सिर्फ पैसा चाहिए बस, इसलिए ध्यान नही देती है और छोटे मोटे सेल्समैन भी चाँदी काट रहे है।

बॉक्स-बीजापुर थानाक्षेत्र में अक्सर पुलिस रूटीन गश्त में लोग इसी दुकान की अंग्रेजी शराब के साथ पकड़ाते है। मगर जब सीमित मात्रा में शराब बिक्री है तो फिर कोचियों को अधिक संख्या में शराब कहा से मिल जाती है।यह शराब दुकानों पर बैठे सेल्समेन की ऊपर की कमाई के कारस्तानी से पहुँचती है।जानकारी के मुताबिक बीजापुर शराब दुकान में सेल्समेन मूल्य से अधिक रुपये लेकर शराब बेच रहे है। शराब की कीमत काउंटर में और ऊपर का दाम में जेब मे रखककर बल्ले बल्ले हो जाता है।

बॉक्स-नियमत शराब दुकान में स्थानीय युवकों को नौकरी दिया जाना था पर चार पांच लोगों के जेल जाने के बाद बिहार और उत्तरप्रदेश से लोगो को बुलाकर संबांधित अधिकारी द्वारा नौकरी दी गयी है,जो सरासर गलत है।साथ ही शराब दुकान के बाजू में अवैध आहता भी चल रहा है,उस पर कोई कार्यवाही नही हो रही, पर दो बोतल से ज्यादा लेकर अगर कोई निकलता है तो उसे पुलिस जेल भेज देती है।

बॉक्स-केडी कुंजाम,कलेक्टर बीजापुर–सरकारी अंग्रेजी शराब दुकान मैं ग्राहकों से 10 से 30 रुपये एक बोतल पर ज्यादा लेने की व होरही अन्य गड़बड़ी के साथ ग्राहकों से गाली गलौच की खबर आपके माध्यम से मिली है।जल्द से जल्द जांच कर दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी।

सेल्समैन के द्वारा गाली गलौज करने पर कांग्रेसी नेता मनोज कुड़मूल ने थाने में कराया एफआईआर दर्ज , कोतवाली पुलिस ने गाली गलौज करने वाले सेल्समेन पर आईपीसी की धारा 506 , 294 में मामला दर्ज किया

Related posts

हाथरस गैंगरेप : पीड़ित परिवार से मिलने गए AAP सांसद संजय सिंह पर काली स्याही फेंकी गई

News Desk

AIMS रायपुर का नर्सिंग स्टाफ हुआ कोरोना पॉजिटिव, कोविड वार्ड में करता था डयूटी

Anuj Shrivastava

बिलासपुर : नया कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद लॉकडाउन की सख़्ती बढ़ी, पुलिस का फ्लैग मार्च

Anuj Shrivastava