छत्तीसगढ़ पुलिस बिलासपुर महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार

बिलासपुर : मंडप में पहुंचकर पुलिस ने रोका बालविवाह, लड़की के पिता से लिया शपथपत्र

सोमवार 29 जून 2020 की दरमियानी रात कोनी पुलिस को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि छोटी कोनी गुड़ाखू फैक्ट्री के पास बस्ती में एक नाबालिग बच्ची का ज़बरदस्ती विवाह कराया जा रहा है। सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के निर्देश पर महिला एवं बाल विकास विभाग और चाईल्ड लाईन की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और ज़बरदस्ती हो रहे इस बाल विवाह को रोका।

अधिकारियों की मौजूदगी में दोनों पक्षों से पूछताछ कर उनका बयान लिया गया।

विभाग के लोगों ने दोनों पक्षों को बालविवाह न करने की समझाइश दी दोनों परिवारों को इस बात की भी जानकारी दी गई के बालविवाह करवाना कानूनन अपराध है।

करहिपारा, निरतु, तखतपुर निवासी लड़की के पिता से विवाह प्रतिबंध अधिनियम की धारा 2 (क) के अनुसार घोषणापत्र लिया गया कि जब तक लड़की बालिग नहीं हो जाती तब तक वे उसकी शादी नहीं करेंगे। समझाइश के बाद दोनों पक्षों को वापस उनके निवास की ओर रवाना कर दिया गया।

Related posts

देशभर में जारी महिला विरोधी अपराध, संघियों के समर्थन व भारत में महिला असमानता के ऐतिहासिक संदर्भ में कात्‍यायनी की चार कविताएं.

News Desk

रायपुर : अंतर्रष्ट्रिय मेहनतकश महिला दिवस का हुआ आयोजन

News Desk

ढोढापुर_मूँगेली_गैंगरेप की घटना के खिलाफ मुंगेली में समाज के प्रदेश भर से युवाओं ने हजारों की संख्या में भाग लिया।

News Desk