Uncategorized

प्रभावितों के मुआवजे पर प्रशासन मौन,पीएमओ को पत्र लिखकर लगाई गुहार

पत्रिका न्यूज

बलरामपुर . खुटपाली नहर परियोजना व तुर्रापानी जलाशय योजना के प्रभावित किसानों द्वारा मुआवजे की मांग को लेकर जिला पंचायत सदस्य के नेतृत्व में तीन दिन से क्रमिक भूख हड़ताल की जा रही है ।

लेकिन अब तक इस मामले में प्रशासन द्वारा कोई पहल नहीं किए जाने से नाराज जिला पंचायत सदस्य व 5 अन्य किसान शनिवार से आमरण अनशन पर बैठ गए हैं ।

साथ ही प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर भी गुहार लगाई है । गौरतलब है कि खुटपाली नहर परियोजना के 16 किमी नहर के लिए 125 से अधिक किसानों की 170 एकड़ जमीन तथा तुरीपानी जलाशय के लिए 110 किसानों की 70 एकड़ भूमि का अधिग्रहण 6 वर्ष पूर्व किया गया था । इस दौरान भूमि अधिग्रहण अधिनियम के तहत प्रभावितों को मुआवजा वितरण करने की बात कही गई थी , लेकिन आज तक प्रभावित किसानों को मुआवजा नहीं मिल सका है ।

इस बीच प्रभावितों द्वारा कई बार शासन – प्रशासन से गुहार लगाई गई , लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई मुआवजा वितरण की मांग को लेकर किसान विगत तीन दिन से जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंहदेव के नेतृत्व में क्रमिक भूख हड़ताल कर रहे हैं , इसके बावजूद प्रशासन स्तर पर कोई पहल नहीं की गई है । इससे नाराज होकर जिला पंचायत सदस्य व अन्य 5 किसान आशीष सिंह , जवाहिर राम , केवा राम , सफिरन राम व विरेंद्र यादव शनिवार से आमरण अनशन पर बैठ गए हैं ।

Related posts

निर्दोष आदिवासियों को प्रताड़ित कर रही है पुलिस — सोनी सोरी

cgbasketwp

यह कहानी है छत्तीसगढ़ के बस्तर के सुदूर जंगल के इलाक़ों में रहने वाली आदिवासी युवती मड़कम मुक्के यानी ‘गीता’ की है.

cgbasketwp

भगवद् गीता राष्ट्रीय ग्रंथ कैसे बनेगी?

cgbasketwp