Uncategorized आंदोलन किसान आंदोलन भृष्टाचार मजदूर वंचित समूह शिक्षा-स्वास्थय

पेंशन, मनरेगा, शिक्षको की कमी, आवास योजना मे धांधली को लेकर छत्तीसगढ़ किसान सभा का प्रदर्शन

kisan sabha

जांजगीर. ग्रामीणों की विभिन्न मांगों को लेकर छत्तीसगढ किसान सभा के बैनर तले सैकड़ों ग्रामीणों ने जिला पंचायत कार्यालय पर प्रदर्शन कर संबंधित अधिकारी को अपनी समस्याओं से संबंधित मांग पत्र सौंपा. प्रदर्शन का नेतृत्व किसान सभा नेता सुखरंजन नंदी और बजरंग पटेल ने किया.

अधिकारी को ज्ञापन सौंपते ग्रामीण

बजरंग पटेल  ने जानकारी दी कि पेंशनधारियों को पिछले दो वर्षों की बकाया पेंशन राशि देने,  पिछले पांच वर्षो से स्वीकृत कार्यो को प्रारंभ कराने, मनरेगा मजदूरो को अतिरिक्त काम की अतिरिक्त मजदूरी भुगतान करने, प्रधानमंत्री आवास योजना मे व्याप्त धांधली रोकने, ग्रामीण स्कूलों मे शिक्षको की कमी दूर करने आदि मांगो पर यह प्रदर्शन आयोजित किया गया था. किसान सभा नेताओं ने आरोप लगाया कि इससे पहले भी पंचायत के अधिकारियों से ये शिकायतें कई बार की गई है, लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है. इसके बाद ही ग्रामीणों को जिला प्रशासन के दरवाजे पर आना पड़ा है। उन्होंने कहा कि इसके बाद उग्र आंदोलन का रास्ता अपनाया जाएगा. मांग पत्र पर प्रशासन ने जांच दल गठित  कर जांच करने का आश्वासन प्रदर्शनकारियो को दिया है.

ग्रामीणों की मांगों को लेकर छत्तीसगढ किसान सभा का प्रदर्शन

जांजगीर. ग्रामीणों की विभिन्न मांगों को लेकर छत्तीसगढ किसान सभा के बैनर तले सैकड़ों ग्रामीणों ने जिला पंचायत कार्यालय पर प्रदर्शन कर संबंधित अधिकारी को अपनी समस्याओं से संबंधित मांग पत्र सौंपा. प्रदर्शन का नेतृत्व किसान सभा नेता सुखरंजन नंदी और बजरंग पटेल ने किया.छत्तीसगढ़ किसान सभा के सुखरंजन नंदी ने मीडिया से बात करते हुए ये जानकारी दी.

Posted by सीजी बास्केट on Wednesday, 13 November 2019

प्रदर्शन  मे कंचन बाई, श्याम बाई, मीरा बाई, नीरा बाई, सुमति बाई, कमला बाई, अंबिका बाई, रामवती, लक्ष्मी बाई, टिकती बाई, अन्नपूर्णा, उषा बाई,, कालिंदी बाई, विवेक कुमार, जितेंद्र ठाकुर, बृजलाल, सूरजभान, अभिषेक, राहुल, शैलेन्द्र, राजेन्द्र सहित अनेकों ग्रामीण शामिल थे.

Related posts

खदान शुरू होने से पहले स्थानीय को रोजगार की मांग ने पकड़ा जोर

cgbasketwp

सब सुखी है – गुड ईवनिंग बिलासपुर .

News Desk

बिलासपुर , मानसिक चिक्तासालय : अंततः अभियुक्त डॉ बनर्जी पर बलात्कार का मामला दर्ज, युवती के साथ कार्यस्थल पर यौनिक हिंसा, गाली गलौच, पीछा करने का मामला.

News Desk