आदिवासी मानव अधिकार राजकीय हिंसा

पुलिस प्रशासन या नक्सल संगठन.आदिवासीयों के लिये मददगार या विरोधी ..

पलिस प्रशासन या नक्सल संगठन.आदिवासीयों के लिये मददगार या विरोधी ..

लिंगाराम. कोडोपी की रिपोर्ट कोया टाईम्स के लिये .आभार सहित .

छत्तीसगढ़ राज्य, दन्तेवाड़ा जिला के बैलाडीला क्षेत्र के ग्राम गुमियापाल पटेल पारा, आलू पारा, बंडी पारा, इन तीन पराओं से 11/8/2019 को पाँच आदिवासी ग्रामीण व एक महिला को नक्सलियों द्वारा गाँव से लेकर जाने की खबर हैं। आज तक कोई सुराग नहीं हैं।

कल दिनांक 14/8/2019 को सोनी सोरी घटना की जायजा लेने ग्राम गुमियापाल पहुँची। गाँव पहुँच कर पीड़ित परिवार से मुलाकात किया व जानकारी लिया कि वास्विकता क्या हैं।

पटेल पारा से 1. किरण कुंजाम/बुधराम, 2. हुंगा मिडयामि/भीमा 3. लालू मिडयामि/पाकलू 4.लालू उर्फ भीमा मिडयामि /पोदीया 5.हुंगा माण्डावी / पांडू 6.भीमा वंजामी /जोगा 11 अगस्त रात नौ, दस बजे से 6 लोग गाँव से गुमशुदा हैं, और हम 15 अगस्त आजादी का दिन मना रहे हैं।

गाँव के ग्रामीणों के बताये अनुसार इन 6 ग्रामीणों में एक साल पहले हुंगा मिडयामि/ भीमा को पहले भी जनअदालत लगाया गया था। हुंगा की गलती मोबाईल रखने व पुलिस से बात करने का माओवाद की नजर में गुनाह था। दूसरा हुंगा माण्डवी/पाण्डू मंगू माण्डावी का भाई हैं।

मंगू माण्डवी/ पाण्डू कुछ दिनों पहले नक्सल के नाम से दन्तेवाड़ा पुलिस के समक्ष आत्म समर्पण किया हैं। अभी मंगू बैलाडिला ( किरन्दुल ) पुलिस थाने में रहता हैं। मंगू के साथ-साथ ग्राम हिरोली का गुड्डी कुंजाम भी नक्सल के नाम पर आत्म समर्पण किया हैं व ये दोनों ही थाने में रहते हैं।

गाँव के ग्रामीणों के कहे अनुसार पुलिस फोर्स के साथ महिला कमांडो मोटर साइकिलों से9/8/2019 को भी गुमियापाल सर्च के नाम पर गाँव की तलाशी लिया गया। मंगू और गुड्डी बंडी पारा में 10/8/2019 शनिवार को एक किसान हुर्रा कलमू /गुड्डी, सुबह हल जोताई कर रहा था। पुलिस फोर्स गुमियापाल गई पोर्स के साथ मंगू व गुड्डी भी गये उस किसान की नक्सलीयों के लिए मुखबिरी के नाम पर मारपीट किया गया। मंगू व गुड्डी द्वारा गुमियापाल के ग्रामीणों को मारने की धमकी भी दिया गया।

ग्राम गुमियापाल आलू पारा में 14/7/2019 को दन्तेवाड़ा पुलिस द्वारा माओवादियों के साथ मुठभेड़ दिखाया गया। मुठभेड़ किस हद तक सही हैं, ये तो पुलिस प्रशासन ही जाने। इस घटना में दो वर्दी धारी नक्सली मारे गये।

इस घटना के कुछही दिनों बाद घर मे अपने बड़े भैया हुंगा माण्डवी के साथ मंगू माण्डवी झगड़ा करता हैं, और पुलिस प्रशासन के पास नक्सल के नाम पर आत्म समर्पण करता हैं। आत्म समर्पण के पश्चात तुरंत ग्राम गुमियापाल में मंगू और बंडी पुलिस फोर्स लेकर जाते हैं और गाँव के ग्रामीणों को मारने की धमकी देते हैं।

इस घटना में दन्तेवाड़ा जिला के पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अभिषेक पल्लव जी का कहना हैं कि उनके पास कोई शिकायत नहीं आयी हैं। जब तक शिकायत नहीं आएगी कोई कार्यवाही नहीं होगी। बस्तर संभाग के आदिवासी गाँवो में जितना डर पुलिस प्रशासन का हैं, उतना ही डर नक्सल संगठन का। गुमियापाल गाँव के ग्रामीण दोनों ही ओर से डरे हुए हैं, शिकायत करे तो किससे करे उन गाँव वालों की मदद कौन करेगा? दन्तेवाड़ा जिला में सर्व आदिवासी समाज का संगठन बना हुआ हैं। ग्रामीणों के नक्सलियों द्वारा अगवा किये जाने की खबर समाच पत्रों व टीवी चैनलों में आ चुका हैं। माओवादी संगठन से न तो समाज द्वारा ग्रामीणों को छोड़ने की अपील की गयी।और न ही पुलिस प्रशासन द्वारा कोई कदम उठाया गया हैं।

यह घटना किसी और समाज के साथ होता तो अब तक छत्तीसगढ़ राज्य व जिले में बहुत कुछ हो जाये रहता। शायद यह घटना आदिवासियों के साथ हुआँ हैं इसी वजह नजर अंदाज किया जा रहा हैं। पुलिस प्रशासन अपने आदिवासियों से मुखबिरी कराकर शाबासी लेने के लिए आदिवासियों का इस्तेमाल करता हैं, आदिवासी ग्रामीणों पर मुशीबत आये तो पुलिस प्रशासन शिकायत करने की बात करता हैं।

कल 15/8/2019 पूरे भारत देश मे 73 वा स्वतंत्रता दिवस,विजय दिवस, आजादी का दिन हर्सो उल्लास के साथ मनाया गया। बस्तर संभाग के आदिवासी आज भी आजाद नहीं हैं। आज भी नक्सल या पुलिस प्रशासन द्वारा गुलामी की जंजीरों में झकड़े हुए हैं। आदिवासियों को आजादी कब मिलेंगी? कल का दिन बस्तर संभाग के आदिवासियों के लिए आजादी का दिन नहीं बल्कि काला दिवस था। जब तक आदिवासियों को आजादी नहीं मिल जाती तब तक 15 अगस्त,26 जनवरी, काला दिवस ही होगा।

***

Related posts

आदिवासी भारत महासभा का प्रथम अखिल भारतीय सम्मेलन सफलता पूर्वक संम्पन्. :  भोजलाल नेताम बने राष्ट्रीय अध्यक्ष

News Desk

रमन सिंह फिर पनामा के घेरे में?- सीजी खबर

cgbasketwp

⚫ बिलासपुर : कठुआ से लेकर उन्नाव तक बलात्कार और हत्या के खिलाफ महिला संघठनो ने रखा उपवास और हस्ताक्षर. अभियान ,राष्ट्रपति को भेजेंगे .

News Desk