Uncategorized

पुलिस परिवारजनों के समर्थन और पुलिस कर्मियों पर दमन के खिलाफ सड़क पर प्रदर्शन .: संयुक्त संघर्ष समिति बिलासपुर .

बिलासपुर / 23.06.2018

छतीसगढ मे पुलिस परिवारजनों द्वारा अपनी जरूरी मांगों के लिये 25 जून को प्रदर्शन की घोषणा के बाद जिस तरह छतीसगढ शासन और पुलिस प्रशाशन ने दमन चक्र चलाया है ,पुलिस परिवार के लोगों को घरों , रास्ते और यहाँ वहां से पकडा जा रहा हैं ,पूरे परिवार को प्रताड़ित किया जा रहा है यह पूरी तरह गैरकानूनी है, कानूनन परिवार के किसी भी व्यक्ति को कोई नोटिस नहीं दिया जा सकता हैं .
प्रदेश में कई आरक्षक बर्खास्त किये ये और उन्हें जेल भेज दिया गया ,कुछ लोगों पर देशद्रोह का आरोप मढ दिया गया .इन सबके खिलाफ आज शाम संयुक्त संघर्ष समिति बिलासपुर के लोगों ने देवकीनंदन दीक्षित चौक पर प्रदर्शन किया और मांग की कि सिपाहियों की बर्खास्तगी रदद् की जाये ,देशद्रोह का आरोप वापस लिया जाये और परिजनों के लोकतांत्रिक अधिकार के तहत धरना और प्रदर्शन की अनुमति दी जाए तथा इनकी मांग पूरी की जाये.
प्रदर्शन में प्रमुख रूप से परदेशी राम यादव, नीलोत्पल शुक्ला , गणेश करमाकर,यमन, राधा, प्रियंका शुक्ला ,कपूर वासनिक , अनुज श्री वास्तव वीरेंद्र, सरिता ,राजेश यादव ,डा. लाखन सिंह आदि उपस्थिति थे .

**

Related posts

सिम्स : एक डॉक्टर से नही पा रहा है संपर्क, इसके कारण मामला अधर में

Anuj Shrivastava

नसबंदी कांड : राज्य सरकार के खिलाफ हाई कोर्ट पहुंचा आईएमए

cgbasketwp

श्रमिक संगठन लामबंद, कोयला उद्योग में हड़ताल की तैयारी शुरू २ सितंबर को प्रस्तावित है संयुक्त हड़ताल

cgbasketwp