आदिवासी आंदोलन किसान आंदोलन दलित राजनीति

 पत्थलगांव :  भारत बंद के तहत शांतिपूर्ण बाइक रैली व ज्ञापन सौंपा गया.

 याकूब कुजूर की रिपोर्ट 

5.03.2019


पत्थलगांव: 5 मार्च को संविधान बचाओ संघर्ष समिति के भारत बंद के आह्वान पर पथलगांव में एस टी /एस सी/ ओ बी सी मंच के संयुक्त तत्वधान में एस डी एम के आदेशानुसार शातिपूर्ण बाइक रैली करके ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा गया। ज्ञापन में राष्ट्रपति से निम्नलिखित प्रमुख मांग की गई-वन अधिकार से सम्बंधित उच्चतम न्यायालय का आदेश रदद् करो, 13 पॉइंट रोस्टर सिस्टम को रद्द कर 200 पॉइंट को लागू करो, 10 प्रतिशत आर्थिक आधार पर आरक्षण रद्द करो, संविधान में छेड़छाड़ बन्द करो, स्थानीय समस्यओं में रास्ट्रय राजमार्ग 43 का निर्माण कार्य तत्काल पूरा करो, टमाटर का समर्थन मूल्य घोषित करो, इसका प्रॉसेसिंग यूनिट खोलो, कृष विकास के समुचित प्रयास करो, पैसा कानून लागू करो, जल संरक्षण व सम्वर्धन के प्रयास करो, हाथी समस्या का समाधान करो, प्रदेश से प्राकृतिक संसाधनों की लूट बन्द करो, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का सम्मान करो, मानव अधिकार व समानिक कार्यकर्ताओं को रिहा करो, आदि।

इस कार्यक्रम में स्वत लोग जुड़ते गए और ज्ञापन देने तक सौ से अधिक लोग शामिल हुए। लोगों का सहयोग और सभागिता संतोष जनक नही था। अपनी अस्तित्व के खतरे के प्रति भी इस वर्ग के लोगों का गंभीर न होना चिंता का विषय है। क्या सब कुछ लूट जाएगा तो चेत आएगा?

***

Related posts

नगरीय निकाय जनवादी सफाई कामगार संघ का 5 जिला समेलन 30 जून को भिलाई में.

News Desk

कर्ज से आत्महत्या को विस्तार से सबूतों के साथ बताया, कृषि मंत्री को अपनी व्यथा बताई

News Desk

रायपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चूंकि ख़ुद जेल जाने से डरते हैं इसलिए वे सोचते हैं कि सुधा जैसे शांतिप्रिय और संविधान में विश्वास रखने वाले मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को भी वो जेल भेज कर डरा देंगे लेकिन उन्हें शायद ये मालूम नहीं कि इन मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के साथ देश की पूरी जनता है. : जनसंगठनों और राजनैतिक दलों का धरना .

News Desk