आदिवासी आंदोलन महिला सम्बन्धी मुद्दे मानव अधिकार राजनीति

नारी उत्पीड़न खत्म हो :अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस करंगबहला, पत्थलगांव  में धूमधाम से मनाया गया.

10.03.2019 : पत्थलगांव 

याकूब कुजूर  की रिपोर्ट 

.पत्थलगांव: जीवन विकास मैत्री और लोक मंच के संयुक्त तत्वाधान में 10 मार्च को करँगाबहला में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस धूमधाम से मनाया गया। 8 मार्च को किलकिला में मनाया गया और 17 मार्च को केराकछार में मनाया जाएगा।

समारोह की मुख्य अतिथि श्रीमती फ्रांसिस्का कुजूर और विशिष्ट अतिथि श्रीमती सोनी कुमारी चेरमाको थीं। मंच संचालन श्री जोसेफ कुजूर ने किया। मंच में श्री सुरेंद्र तिर्की, फा फुलजेन्स मिंज, फा प्रदीप लकड़ा और सि सुपीरियर आसिन थे।

समारोह का आरम्भ दीप प्रज्वलन द्वारा किया गया। इसके बाद अतिथिओं का पुष्पगुच्छ और बैच के द्वारा सम्मान किया गया। युवा संघ द्वारा एक गाना गाकर सभी का स्वागत किया गया।

संयोजक याकूब कुजूर ने आज जरा हटके अपना सम्बोधन प्रस्तुत किया। उन्होंने प्रश्न देकर उसका जवब देने के लिए उपस्थित जनों को आमंत्रित किया, विशेषकर युवतियों को। इस प्रकार अधिक से अधिक लोगों को विषय वस्तु पर बोलने और विचार व्यक्त करने का मौका मिला।

मुख्य अतिथि फ्रांसिस्का ने विकास में महिलाओं की भागीदारी होना बहुत ही जरूररी बताया। महिला उत्पीड़न को खत्म करने के लिए जागरूकता आवश्यक है।

क्षेत्र की नारी समस्याओं के समाधन के लिए राष्ट्रपति के नाम एस डी एम को कल ज्ञपन सौपा जाएगा जिसका वाचन सोनकुवारी ने किया। सभी ने इसका समर्थन किया।

फा फुलजेन्स ने कार्यक्रम में भाग लेने वालों को और सफल बनाने के लिए श्रीमती अशुनता एक्का, ज्वाकिम टोप्पो, लक्छ्मण मिंज, हेमन्त लकड़ा और अन्य सहयोगियों को धन्यवाद दिया।

Related posts

सुकरात और बहुमत .

News Desk

पंन्द्रह हज़ार लोगों के फोन टेप करने वाली रेखा की तलाश .ःः छत्तीसगढ़

News Desk

पेलमा सेक्टर-2 कोयला खदान, ग्रामसभा में असहमति प्रस्ताव पास, दबाव बनाने पुनः की जा रही जनसुनवाई

Anuj Shrivastava