आदिवासी राजनीति

नक्सलियों द्वारा अगवा किये गए ग्रामीणों की हुई रिहाई, एसपी ने की पुष्टी.दंतेवाड़ा

नक्सलियों ने अपहरण किए 6 ग्रामीणों को निशर्त रिहा कर दिया है. सोमवार को शाम 6 बजे रिहा किया गया. सभी अपने गांव गुनियापाल पहुंच गए हैं. ग्रामीणों की रिहाई की पुष्टि एसपी अभिषेक पल्लव ने की .

छोड़े गए बंधकों में 4 ग्रामीणों के साथ नक्सलियों ने कोई मारपीट नहीं की. वहीं 2 ग्रामीणों के साथ मारपीट की गई है. साथ ही उन्हे एक साल गांव में नजरबंद की सजा सुनाई गई है.

एसा कहा जा रहा है सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सौरी और लिंगराम कोडोपी के लगातार दबाव ने रिहाई संभव.हो पाई।उनके परिजनो ने सोनी और पुलिस की मदद का आभार किया.

जानकारी के मुताबिक सभी ग्रामीणों के पास मोबाइल फोन मिले थे. इसके बाद नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी के शक में ग्रामीणों का अगवा कर लिया था।

Related posts

अभियुक्त दबाव डाल रहे हैं मुकदमा वापस लेने के लिये . बीजापुर की आदिवासी युवती को दो साल तक बंधक बनाने वाले ए एस आई और शिक्षिका पर एफआईआर के बाद दो महीने बाद भी नही हुई गिरफ्तारी और नही हुआ निलंबन .: एस पी और सीईओ से मिले अधिवक्ता गण .

News Desk

अज्ञानता का आनंदलोक रचते एंकर .ः •उर्मिलेश उर्मिल

News Desk

छत्तीसगढ़ ःः सरकार से एक अपील .

News Desk