आंदोलन सांप्रदायिकता हिंसा

देश में बढ़ते मॉब लिनचिंग की घटनाओं के खिलाफ रायपुर में भारी प्रतिरोध सभा और रैली प्रदर्शन .

पिछले पांच सालों में मोदी सरकार, संघ परिवार व् इनके अन्य अनुषांगिक संगठनों ने जिस तेजी से विषैले राष्ट्रवाद को सभी समस्याओं का हल बताते हुए, संस्कृति व् धर्म रक्षा के नाम पर जिस उन्मादी भीड़ को तैयार कर संरक्षण दिया है वह अब जय श्री राम और जय हनुमान के नारे लगा-लगा कर निर्दोष जनता की जान लेने पर उतारू है।

2019 में अब तक भीड़ की हिंसा से जुड़ी 11 बड़ी घटनाएं हो चुकी है। पिछले एक दशक में घृणा व् द्वेष के चलते सांप्रदायिक हिंसा की 297 घटनाएं हुई हैं। इनमें 100 से ज्यादा लोग मारे गए हैं और कई घायल हुए हैं, जिनमें से ज्यादातर पीड़ित मुस्लिम तथा दलित समुदाय से आते हैं।

भारत की गंगा-जमुनी तहजीब, आपसी प्रेम, भाईचारे एवं धर्मनिरपेक्ष चरित्र के खिलाफ जाकर अल्पसंख्यक समुदायों व दलितों पर बढ़ते हिंसक हमले के विरोध में आज 28 जून 2019 को छत्तीसगढ़ मुस्लिम समाज द्वारा राजधानी रायपुर के नगर निगम मुख्यालय के सामने सभा कर मोतीबाग चौक तक मौन जुलूस निकालकर रायपुर कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।

इस अवसर पर झारखंड में मुस्लिम युवक तबरेज़ अंसारी की भीड़ द्वारा खंभे से बांधकर डंडों से पिटाई कर हत्या करने की कड़ी निंदा की गयी। उक्त भीड़ ने तबरेज़ को ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ के नारे भी लगाने के लिये मजबूर किया और निर्ममता से पीटा जिसके चलते पुलिस हिरासत में रहते शनिवार को उसकी मौत हो गई थी। मौन जुलूस में तख्तियां लहराकर सरकार से मरहूम तबरेज़ अंसारी व् भीड़ की हिंसा में मारे गए अन्य सभी लोगों के परिवारों को इन्साफ दिलाने की मांग की गई।

सभा में सरकार से इस तरह की साम्प्रदायिक हिंसा और भय के माहौल को रोकने के लिये ठोस कदम उठाने और दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया। आज हुए इस कार्यक्रम में शहर के मुस्लिम बंधुओं के अलावा, मानवाधिकार और सामाजिक कार्यकर्ता, शहर के वाम तथा प्रगतिशील संगठनों के साथी, सिविल सोसायटी के सदस्य, युवाओं और आम लोगों ने इकट्टठे होकर मॉब लिंचिंग तथा अन्य हिंसक अपराधों के ख़िलाफ़ आवाज़ बुलंद की।

कामरेड सौरा यादव
राज्य सचिव
भाकपा (मा-ले) रेड स्टार

Related posts

? कांकेर : किसान 5 मार्च से रेल लाइन पर बैठे हैं,रावघाट रेल प्रभावित नोकरी और उचित मुआवज़ा की माँग को लेकर आंदोलनरत ,किसानो ने ट्रायल रेल स्टेशन पहुँचने के पहले रोकी.पुुुलिस ने दी  बल प्रयोग की चेतावनी .

News Desk

सभी जनवादी, लोकतान्त्रिक, शांतिप्रिय संगठनों और नागरिकों से अपील करता है की वे आगामी विधान सभा चुनाव में फासीवादी, अधिनायकवादी, अलोकतांत्रिक, कॉर्पोरेट जगत के उम्मीदारों को परास्त करने चुनावी प्रक्रिया में सक्रिय भूमिका निभाएं, और संवैधानिक मूल्यों और सिद्धांतों को बरकरार रखने के लिए सघन अभियान छेड़ें;.

News Desk

सीजीबास्केट : वंचितों के विचारों का साझा मंच . अपील ,आप हमें सहयोग करें.

News Desk