आदिवासी आंदोलन जल जंगल ज़मीन

दंतेवाड़ा : 7 जून 13 नंबर खदान बिना ग्राम सभा के अनुमोदन के खिलाफ हजारों आदिवासी करेंगे प्रदर्शन . गांवों से रवाना हुये 25 हज़ार से अधिक लोग .

दंतेवाड़ा – बिना ग्रामसभा के अनुमति के 13 नंबर प्लांट को अडानी को देने की विरोध में कल से होगी अनिश्चित कालीन हड़ताल । हजारो के तादात में ग्रामीण होंगे शामिल । दंतेवाड़ा बीजापुर और सुकमा क्षेत्र के ग्रामीण 2 दिन पहले से ही हड़ताल में शामिल होने को निकले । 50 km से अधिक दूरी तय कर पैदल पहुच रहे है ग्रामीण । 13 नंबर क्षेत्र में मौजूद है ग्रामीणों का दैवीय स्थल । जहा प्लांट के लिए काटने है लाखो पेड़.

दंतेवाड़ा के पहाड़ी जिसमें सम्पूर्ण दंतेवाड़ा वीजापुर क्षेत्र लिए देव स्थल है , जिसे पिटोड मेटा के नाम से जाना जाता है को लौह अयस्क खनन डिपॉजिट 13 नवंर हेतु पहले एन . एम . डी . सी . लिमिटेड को लीज आवंटित किया गया , किन्तु उपरोक्त खनन के लिए ग्राम हिरोली में ग्राम सभा का आयोजन कर प्रस्ताव नहीं लिया गया है . एन . एम . डी . सी . प्रबंधन एवं जिला प्रशासन द्वारा फर्जी ग्रामसभा का आयोजन किया गया , और वर्तमान में खनन हेतु अढासी ग्रुप को हस्तांतरित किया गया है ।

13 नम्वर खदान खोलने व फर्जी ग्रामसभा के विरोध में 02 मार्च 2019 को क्षेत्र के लगभग 25 हजार आदिवासी किरन्दुल नगर में एकत्रित होकर भारतीय संविधान एवं कानून का पालन एवं प्राप्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए चचेली नगर तक विशाल रैली कर विरोध प्रदर्शन किया गया था.

इस दौरान राज्यपाल को ज्ञापन पत्र के माध्यम से अनुरोध करते हुए कहा गया था कि उक्त परियोजना का काम फौरन रोका जाए एवं आबटन को रद् किया जाए । लेकिन वर्तमान में आबंटित क्षेत्र में भारी मात्रा में पेड़ कटाई की जा रही हैं ऋ हमारे द्वारा , सौपे गए ज्ञापन पर कार्यवाही नहीं होने से क्षेत्र की जनता में एन . एम . डीसी , प्रबंधन एवं प्रशासन के खिलाफ बहुत आक्रोश व्याप्त है ।

आदिवासियों की आवाज़ राज्य एवं केन्द्र सरकार तक पहुंचाने के लिए , भारत के संविधान की दुहाई देते हुए एवं भारतीय कानून को सर्वेसरी मानते हुए शुक्रवार से किरन्दुल एन . एम . डी . सी . परियोजना के प्रवेश द्वारा क्षेत्र के 25 हजार आदिवासी पुनः अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन , आंदोलन व घेराव करने जा रहे है .

**

Related posts

AEPF Statement on India-Pakistan Conflict Escalation : Asia Europe Peoples Forum (AEPF)

News Desk

? उत्तरार्ध केवल पुरुषों के लिए है  :. सुनो पुरुषो….. शरद कोकास.

News Desk

फसल बीमा :भ्रष्टाचार निजी मामला कैसे, पूछा किसान सभा ने.

News Desk