औद्योगिकीकरण जल जंगल ज़मीन पर्यावरण मजदूर मानव अधिकार

तामिलनाडु के तुतीकोरन मे विदेशी कंपनी वेदान्ता के हित के लिये पुलिस द्वारा 13 लोगों की हत्या के खिलाफ बिलासपुर मे हुआ प्रतिरोध प्रदर्शन .

26.05.2018

बिलासपुर /

आज संयुक्त नागरिक संघर्ष समिति के लोगों ने देवकीनन्दन चौक पर तामिलनाडु मे विदेशी कंपनी से त्रस्त आंदोलनकारियों पर निशान बांध कर स्नाइपर शूटर का उपयोग करके 13 प्रदर्शनकारियों की निर्मम हत्या ,बढ़ते पेट्रोल कीमत और पर्यावरण की रक्षा के लिए पर्दर्शन किया गया

दक्षिण तमिल नाडु के तूतीकोरन (थूतुकुड़ी) में 22 मई 2018 को 13 से अधिक लोगों की तमिल नाडु पुलिस द्वारा निशाना साध कर मारे गए तमाम लोग तूतीकोरन नगर के मुहाने पर स्थापित स्टरलाईट कारखाने के इर्द-गिर्द बसे उन निहथ्थे हज़ारों स्थानीय निवासियों में से थे जो जनतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन कर स्टरलाईट कॉपर स्मेल्टिंग प्लांट को बंद करने की मांग कर रहे थे, जो व्यापक तौर पर जानलेवा पर्यावरणीय प्रदूषण फैलाता रहा है. यह कारखाना वेदान्त समूह द्वारा संचालित विश्व का ऐसा एक सबसे बड़ा कारखाना है.

आंदोलन धरना तो बहुत दिनों से चल रहा था ,कोर्ट मे सुनवाई भी लंबित थी ,इस बीच आंदोलन को तोडने और मजदूरों और आम नागरिकों की हत्या करने के लिये ही यह कार्यवाही की गई .

 


आज की सभा को नंद कशयप और गणेश तिवारी ने सम्बोधित किया , पर्दर्शन में पवन शर्मा ,रवि बनर्जी ,प्रियंका शुक्ला ,नन्द कश्यप ,गणेश तिवारी ,कपूर वासनिक , संतोष सहगल  संजीव मोइत्रा ,सुखऊ राम ,प्रथमेश मिश्रा ,निरुपमा बाजपेयी ,धीरज शर्मा , मयंक और डा. लाखन सिंह आदि उपस्थित रहे.

 

**

Related posts

टीएचडीसी के वादे झूठे दावे कमजोर : माटू

News Desk

.बिल गेट्स का दान किसके हित में? __ जेके कर

News Desk

भिलाई तनख्वाह नहीं मिलने से वर्क स्टेशन टीएंडडी के श्रमिकों ने काम रोका.

News Desk