नीतियां वंचित समूह

डा.पायल तड़वी की संस्थागत हत्या और गणेश कौशले के साथ भेदभाव के खिलाफ रायपुर में प्रदर्शन .

रायपुर के आंबेडकर चौक में दलित मुक्ति मोर्चा एवं डी एम ए ऑनलाइन के तत्वधान में डॉक्टर पायल तड़वी के संस्थागत हत्या के खिलाफ एक विरोध प्रदर्शन किया गया। इस प्रदर्शन में एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी के लगभग 100 लोग भाग लिए और इसके अंतर्गत आंबेडकर चौक में जोरदार नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों के अंदर डॉक्टर पायल चौधरी की संस्थागत मृत्यु के सन्दर्भ में काफी गुस्सा था। इस संदर्भ में जिन लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए उनमें से प्रमुख डॉक्टर गोल्डी एम जॉर्ज, आरके जांगड़े, अखिलेश एडगर, संजीव खुदशाह, अंकिता अंधारे, अंजू मेश्राम, पुष्पलता महेश्वर, अनीता कुजूर, इत्यादि थे। 

इस दौरान अन्य कई दलित आदिवासी छात्रों की मृत्यु पर भी लोगों ने अपने रोष जताई। ऐसे ही अन्य कई परिस्थिति जो छत्तीसगढ़ में हो रही है। उदाहरण स्वरूप गणेश कोसले और एक अन्य आदिवासी छात्र का जो घासीदास यूनिवर्सिटी में भेदभाव के शिकार हुआ इन विषयों पर भी लोगों ने अपना गुस्सा जताया। डी०एम० एम० ने सरकार मांग की कि डॉ० पायल तड़वी के संस्थागत हत्यारों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए और शिक्षण संस्थानों से पूर्णता जाति भेद एवं जातिवाद को समाप्त किया जाए। लोगों ने यह भी मांग की कि देश को जाति और धर्म के आधार पर ना चलाया जाये बल्कि देश को संविधान के आदेश पर चलाए जाये। 
अंत में सभी लोगों ने मिलकर पायल को डॉ बाबासाहेब आंबेडकर के मूर्ति के सामने मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस संघर्ष को आगे ले जाने की बात सभी ने कही। 
***

Related posts

जाति – व्यवस्था का चक्रव्यूह : लोक शाहिर संभाजी भगत

News Desk

धान ख़रीदी के सरकारी दावे हवाहवाई: बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा

News Desk

सिम्स बिलासपुर ः अनैतिक भृष्ट कारनामों के उजागर करने के फलस्वरूप डा.नितिन की बर्खास्तगी और प्रताड़ना के खिलाफ़ संघर्ष का संकल्प .काबिज गिरोह के विरुद्ध कार्यवाही की मांग .

News Desk