अदालत पर्यावरण

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट . औद्योगिक प्रदूषण मामलाः शासन को तीन सप्ताह में जवाब के निर्देश .

बिलासपुर , हाईकोर्ट ने प्रदेश में फैल रहे औद्योगिक प्रदूषण और इससे हो रही विभिन्न किस्म की बीमारियों से निपटने के लिए शासन को तीन सप्ताह में जवाब पेश करने का निर्देश दिया है । मामले की आगामी सुनवाई 20 अगस्त को नियत की है । प्रदेश में फैल रहे औद्योगिक प्रदूषण और हो रही बीमारियों को लेकर हाईकोर्ट में लक्ष्मीनारायण देवांगन , अमरनाथ पांडेय समेत अन्य द्वारा जनहित याचिका दायर कर इसकी रोकथाम किए जाने की मांग की गई है । मामले की प्रारंभिक सुनवाई के बाद हाईकोट की युगलपीठ ने शासन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया था । शासन द्वारा अपने जवाब में बताया गया कि देश भर के आईआईटी संस्थानों द्वारा औद्योगिक प्रदूषण पर रिसर्च किया जा रहा है , उनसे जानकारी मंगाई गई है । आईआईटी मुंबई और कानपुर द्वारा रिपोर्ट मिलने के बाद कोर्ट को जानकारी दी गई कि रिपोर्ट काफी विस्तृत है , इसके अध्ययन में वक्त लगेगा । युगलपीठ ने इसके लिए दो माह की मोहलत प्रदान की थी । अब कोर्ट ने शासन को तीन सप्ताह में रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है ।

पत्रिका न्यूज

Related posts

बलरामपुर छतीसगढ : जगन्नाथपुर में महान -3 कोल परियोजना के खिलाफ़ निर्णय किया ग्राम सभा ने .: पहले खदान समर्थक व्यक्ति को अध्यक्ष बनने के प्रयास को बहुमत से रोका .

News Desk

पल्स ग्रुप ऑफ कंपनीज के प्रभावित हजारों लोगों की रायपुर विशाल सभा. : छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन ने भी दिया अपना समर्थन.

News Desk

आप के 13 सूत्रीय वादों को पूरा करने का शपथ पत्र जारी किया, पूर्ण शराबबन्दी, हर गांव में स्कूल एवम ग्राम क्लीनिक, किसानों से 2600 रु में धान खरीदी, आदिवासी क्षेत्रों में पांचवी अनुसूची लागू करने की शपथ.

News Desk