आंदोलन औद्योगिकीकरण मजदूर मानव अधिकार राजनीति शासकीय दमन

छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा मजदूर कार्यकर्ता समिति ने मृत परिवारों को एक, एक करोड़ और परिवार एक सदस्य को सरकारी स्थाई नोकरी की मांग .

18.05.2018

भिलाई.

 

छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा मजदूर कार्यकर्ता समिति कार्यालय लेबर केम्प जामुल में आवश्यक बैठक आहूत किया गया जिसमें बनारस में हुए ओवरब्रिज दुर्घटना में मृतकों को श्रद्धांजलि दिया गया वही सरकार के लापरवाही करार दिया गया ,लम्बे समय से निर्माणाधीन कार्य मे लगे इंजीनियर, देकेदार को नही दिखा की किस प्वाइंट पर कमजोर है जो टूट सकता है ?

 

असल मे मामला यह है कि उस ओवरब्रिज का uadaghatan करने सरकारी प्रेसर था ,पी एम मोदी जी उड़घटन करते जल्दी जल्दी काम चलने लगा मटेरियल का कोई हिसाब किताब नही था सब अधिकारी मंत्री अपने कमीशन के चक्कर मे थे ,कयोकि कोई भी योजना भरस्टाचार के बगैर नही चलता 30 से ऊपर लोग मर गए योगी, मोदी सरकार को कोई चिंता नही है बेंगलोर में विधायक खरीदने के करोड़ो रूपये है लेकिन मृत परिवारों को देने के लिए करोड़ो रूपये नही है, जनता के जन का कीमत कुछ भी नही है क्या प्रजातांत्रिक मूल्य खत्म हो चुका है?

छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा मजदूर कार्यकर्त समिति मांग करता है कि मृत परिवारों को एक, एक करोड़ और परिवार एक सदस्य को सरकारी स्थाई नोकरी दिया जाय l

Related posts

कोई मुझे बतायेगा कि इन्हें क्या करना चाहिये ?

cgbasketwp

हाईकोर्ट ने शासन से पूछा हाथ से मैला उठाने पर रोक लगाने के लिए अब तक क्या किया , जमीनी रिपोर्ट दें.

News Desk

NGT Stays 6 Projects By Chhatisgarh Govt On Mahanadi

News Desk