किसान आंदोलन

छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ का एक दिवसीय धरना आज रायपुर में 12 बजे से बूढा तालाब पर .

 

रायपुर /9.11.2017

09 नवम्बर को किसानों का प्रदेश व्यापी धरना: किसान महासंघ

रमन सरकार वायदा निभाओ अभियान के तहत किसानों का एक एक दाना धान खरीदी करने, 2100रु समर्थन मूल्य देने, रबी फसल धान पर पाबंदी लगाने के विरोध में, तथा किसानों से किये गए सभी चुनावी वायदों को पूरा करने की मांग को लेकर छ ग के किसान अपने जिलों, ब्लॉकों में 09 नवम्बर 2017 को धरना प्रदर्शन करेंगे।

पिछले 26 अक्टूबर को महासंघ की बैठक में लिये गए निर्णय के अनुसार छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संचालक मंडल सदस्यगण द्वारिका साहू, रूपन चंद्राकर, पारसनाथ साहू, जनक लाल ठाकुर, तेजराम विद्रोही, डॉ संकेत ठाकुर, नरोत्तम शर्मा, उत्तम जायसवाल, दुर्गा झा, मदन लाल साहू, पुरषोत्तम चंद्राकर, जागेश्वर चंद्राकर, लक्ष्मी नारायण चंद्राकर, देवनाथ साहू, हरीश वर्मा, गोविंद चंद्राकरआदि ने कहा कि रमन सिंह सरकार 2100 करोड़ रुपये किसानों को बोनस बाँट कर अपना पीठ थपथपा रही है, वह यह नही बता रहा कि बोनस त्योहार मनाने में कितने करोड़ रुपये खर्च किया। आज छत्तीसगढ़ के 96 तहसीलों को सूखा ग्रसित क्षेत्र घोषित किया है परन्तु बाकी क्षेत्रों में फसल की बीमारी की वजह से किसानों को भारी आर्थिक क्षति हुआ है। इसलिए सरकार किसानों का एक एक दाना धान खरीदी करें, अलग अलग क्षेत्रों में जमीन की प्रकृति अलग अलग है इसलिए रबी फसल धान पर पाबंदी लगाना बंद करे, बाँधो एवं अन्य जलस्त्रोत से पहले किसानों के लिए जल प्रबंधन करे फिर उद्योगों के लिए हो। दलहन तिलहन का बीज समय से पहले किसानों को पर्याप्त उपलब्ध करवायी जाये.

**

Related posts

कृषि विशेषज्ञ पी साईंनाथ की नजर में मोदी सरकार की फसल बीमा योजना राफेल से भी बड़ा गोरखधंधा फसल बीमा प्रदान करने का काम रिलायंस, एस्सार जैसी कंपनियों के हवाले किया गया है.

News Desk

किसान आत्महत्या मामले में रमण सरकार दोषी, छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ

News Desk

खेती किसानी के संकट की जिम्मेदार सरकार की नीति और नीयत : किसानी बचाने के नये और बड़े आंदोलनों के संकल्प के साथ संपन्न हुआ रायपुर मे किसान संकल्प सम्मेलन

News Desk