औद्योगिकीकरण जल जंगल ज़मीन पर्यावरण राजनीति

कोरबा ःः नये भूमि कानून 2013 का कड़ाई से पालन कर वर्तमान बाजार भाव का का 4 गुना मुआवजा दिया जायेगा. ःः राजस्व एवं पुनर्वास मंत्री छत्तीसगढ़

30.12.2028 कोरबा 

आज ऊर्जा धानी भूविस्थापित कल्याण समिति जिला कोरबा(छ ग) के पदाधिकारी एवं सदस्य ने छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं पुनर्वास मंत्री माननीय जयसिंह अग्रवाल जी से मुलाकात कर उनको जीत की बधाई दी .

 एसईसीएल से प्रभावित गेवरा, कुसमुंडा, दीपका एवं कोरबा परियोजना से प्रभावित भू विस्थापितों की समस्या से उनको अवगत कराया एवं साथ ही कांग्रेस द्वारा जन घोषणा पत्र में शामिल भूमि अधिग्रहण कानून के अनुसार बाजार भाव का चार गुना मुआवजा दिया जाना है जिसे पूर्व सरकार ने दोगुना कर दिया था इस संबंध में मंत्री  से चर्चा हुआ और उनसे मांग की गई की भू विस्थपितो की पुराने व नये रोजगार ,पुनर्वास से संबंधित समस्याओं के निराकरण के साथ साथ कांग्रेस के जन घोषणा पत्र मे शामिल बिन्दु ” *नये भूमि कानून 2013 का कड़ाई से पालन कर वर्तमान बाजार भाव का का 4 गुना मुआवजा दिया जायेगा* “को जल्द ही कैबिनेट में पारित कराएं जाने हेतू मंत्री  से निवेदन किया गया जिस पर मंत्री  ने आश्वस्त किया है की ये प्रस्ताव जल्द ही पास हो जायेगा।

इस प्रस्ताव के पास होने के बाद जिन भू अधिगृहण के मामले मे 1 सितंबर 2015 के बाद जमीन का मुआवजा अवार्ड हुआ है वहां यह लागू होगा जिससे दीपिका क्षेत्र से प्रभावित गांव मलगांव सुआभोंडी, हरदी बाजार, रेकी कुसमुंडा क्षेत्र से प्रभावित गांव पाली,पद्निया, सोनपुरी,रिस्दी,गेवरा बस्ती,धरमपुर, एवं गेवरा परियोजना से प्रभावित गांव बरभान्ठा,सलोरा ,भिलाई बाज़ार,रलिया को इसका लाभ मिल सकेगा ।

वर्तमान में इन ग्रामो मे बाजार भाव लगभग 4 लाख रु से 6 लाख रु प्रति एकड़ है अगर भूमि कानून से संबंधित प्रस्ताव को कांग्रेस सरकार जल्द ही पास कर देती है तो उपरोक्त गांव में लगभग 16 लाख रु से लेकर 24 लाख प्रति एकड तक मुआवजा मिलेगा ,जबकि वर्तमान मे SECL के द्वारा 8 लाख रु प्रति एकड मुआवजा दिया जा रहा है।

आज के मुलाकात में ऊर्जा धानी भू विस्थापित संगठन की ओर से अध्यक्ष सुरेंद्र प्रसाद राठौर ,उपाध्यक्ष बृजेश श्रीवास, सचिव दीपक साहू, कोषाध्यक्ष रूद्र दास महंत, संयुक्त सचिव श्यामू जयसवाल, सह सचिव विजय पाल , मीडिया प्रभारी मंजीत यादव ,संरक्षक सदस्य गोपाल यादव डीके मिश्रा ,जय कौशिक, विनय विन्ध्यराज, गणेश चौहान, गोकुल राठौर ,दीपक यादव, प्रवीण राठौर ,विशाल कंवर, रामेश्वर कंवर,अमरसिंह कंवर,
कोरबा इकाई के अध्यक्ष तिरिथ बिन्झवार, उपाध्यक्ष श्रीकांत सोनकर, दीपिका इकाई के अध्यक्ष राहुल जयसवाल ,उपाध्यक्ष प्रकाश कोर्राम, सचिव संदीप कुमार, कोषाध्यक्ष नरेंद्र प्रधान, कुसमुंडा इकाई के अध्यक्ष इंद्रपाल कंवर, उपाध्यक्ष प्रताप सिंह कंवर, सचिव चंदन राम यादव, पाली सरपंच ,दूब राज सिंह कंवर,वह भारी संख्या में भू स्थापित सदस्य शामिल थे ।

**

Related posts

MODI’S BANKING POLICY : INDIA’S LOSS BUT MODI’S GAIN- prabhakar sinha .

News Desk

भाजपा विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों द्वारा हत्या चुनावी हिंसा को लोकतांत्रिक चुनाव प्रक्रिया में बाधक .: पीयूसीएल छत्तीसगढ़ ने की निंदा .

News Desk

बेगुनाह वासिफ हैदर को दैनिक जागरण ने बताया था आतंकी, वासिफ ने दर्ज कराया मानहानी का मुकदमा. अदालत ने किया था उन्हें बरी

News Desk