आदिवासी मानव अधिकार हिंसा

कुप्रख्यात के लिए जोर की ताली.

प्रस्तुति , उत्तम कुमार ,संपादक दक्षिण कोसल

ओडिशा के बालासोर से सांसद और मोदी कैबिनेट में मंत्री पद का शपथ लेने वाले प्रताप चन्द्र सारंगी पर 7 आपराधिक मामले दर्ज हैं। मेरे अनुमान से भारत का पहला लिंचिंग, जब ओडिशा में कुष्ठ रोगियों के लिए काम करने वाले ग्राहम स्टेन्स को 23 जनवरी 1999 को उनकी ही गाड़ी में जलाकर मार डाला गया था. उस वक्त गाड़ी में ग्राहम के दो मासूम बच्चे भी जलकर मर गए थे।

ये मर्डर बजरंग दल वालों ने करवाया था। सारंगी उस वक्त ओडिशा में बजरंग दल के स्टेट को-ऑर्डिनेटर थे कल से लोकतंत्र की प्रतिमूर्ति बन गए प्रताप सारंगी को गरीब, सादा जीवन जीने वाला, सायकिल से चलने वाला, झोला लेकर आदिवासियों के लिए काम करना बताकर इस भयानक चेहरे को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है।


सारंगी 2002 में अयोध्या मंदिर मांग को लेकर ओडिशा विधानसभा में घुसकर तोड़फोड़ मचाने के लिए 2002 में दंगा आरोपी के बतौर गिरफ्तार भी हुआ था!

एनडीटीवी  से ..

चुनाव सुधारों पर नजर रखने वाली संस्था नेशनल इलेक्शन वॉच और एडीआर (एसोसिएशन फॉर ड्रेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) के मुताबिक सारंगी के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने, वैमनस्य पैदा करने समेत अन्य धाराओं में कुल  7 मामले दर्ज हैं. आपको बता दें कि प्रताप चंद्र सारंगी को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय में राज्य मंत्री; और पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी दी गई है. विश्लेषण के मुताबिक सारंगी पर जो 7 मामले दर्ज हैं, उनमें 7 गंभीर धाराएं हैं, जबकि 15 अन्य धाराएं लगाई गई हैं.

मध्यम उद्यम मंत्रालय में राज्य मंत्री; और पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी दी गई है. विश्लेषण के मुताबिक सारंगी पर जो 7 मामले दर्ज हैं, उनमें 7 गंभीर धाराएं हैं, जबकि 15 अन्य धाराएं लगाई गई हैं.

**


**

Related posts

अरनपुर में सुरक्षाबलो ने फिर किया हमला , खेत में फसल की रक्षा करते तीन लोगो को पकड़ ले गई दो को छोड़ा .एक गिरफ्तार. **

cgbasketwp

राजेन्द्र सायल जी की स्मृति में

Anuj Shrivastava

बस्तरः गोली का जवाब गोली से – नथमल शर्मा संपादक इवनिंग टाइम्स बिलासपुर

cgbasketwp