मजदूर

का.ए.के. राय को छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा ने दी श्रधांजलि .

छत्तीसगढ़ माइंस श्रमिक संघ / छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा कार्यलय में . कामरेड ए . के को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गयी , जिसमें छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा ( अध्यक्ष ) जनक ठाकुर एवं छत्तीसगढ़ माइस श्रमिक संघ के अध्यक्ष ) गणेश राम चौधरी , शहीद अस्पताल अधीक्षक ) डॉ . शैवाल जाना , छत्तीसगढ़ माइंस अमिक संघ के महामंत्री दुर्गा प्रसाद देशमुख , छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा के उपाध्यक्ष ) बिहारी ल ल ठाकुर एट संस्था के शैलेष कुमार , राजाराम बरगद , नासिक यादव , जनक साहू , गजाधर विश्व , रघुनंदन देवा , कपील साहू , अमर मडावी , नारद नारंग , हीरा साहू , तिलक राजपूत , देवेन्द्र कौरम , परमेश्वर , मेहत्तर राम रामेश्वर , तुलसी कोला , किन भीगराव , बिहारी निर्मल . राजेश कुमार , मोहन , पुरुषोत्तम साहू , विष्णु धनकर हुबलान , देवप्रसाद भंडारी , मग तू , एवं सैकड़ों कार्यकर्ता श्रद्धांजलि सभा उपस्थित होकर स्व कामरेड ए के राय जी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित किये .

।कामरेड ए के , राय अविभाजित बिहार में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का गठन कर पृथ्क झारखण्ड राज्य बनाने तथा झारखण्ड में आदिवासियों को कल माफिया , वन माफियाओं से मुक्त कराने के सषर्ष में अग्रणी भूमिका अदा किया , झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के निर्माण में कामरेड ए के , राय जी के साथ सीबू सोरेन बिहारी महतो को साथ लेकर चे संघर्ष में नेतृत्व प्रदान किया , कामरेड ए के , राय जी माक्र्सवादी , लेनिनवादी विचारधारा से ओतप्रोत झारखण्ड के सिंदरी विधानसभा क्षेत्र से 3 बार स्वतंत्र विधायक तथा धनबाद लोकसभा क्षेत्र से 3 बार सासंद रहे , उनका जीवन सादा और विचार उच्च थे , कालियारी क्षेत्र के फल माफियाओं के अत्याचार के खिलाफ आम जनताओं को एकताबद्ध तरीके से उनका संघर्ष मील का पत्थर है । विधानसभा एवं शोकसभा से प्राप्त होने वाली सरकारी वेतन एवं पेंशन को राष्ट्रपति के राहत कोष में जीवन्त ५५ प्रदान करते रहे । छत्तीसगढ़ मारा ‘ भक संघ के मजदूरों के आंदोलन में कामरेड ए के . राय जी की भूमिका अहम रहीं है . लाई के SLC . के कर्मचारियों को बोकारो स्थानातरण के राय राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम में कामरेड शंकर गुहा नियोगी को दल्लीराजहरा की सड़कों से लेकर दिल्ली के संसद तक आवाज उठाकर निःशर्त रिहा करवाने में कामरेड . राय की भूमिका अहम रही है । भिलाई आंदोलन के समय भी कामरेड एके राय जी का सैद्धांतिक विचारधारा का भरपूर सफल उपयोग किया गया । | कामरेड ए के , राय जी का जीवन लीला दिनाँक 21 / 07 / 20 19 को धनबाद के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली , उनके निधन से देश के जनमानस को अपूर्णीय क्षति हुई है , विशेष कर वामपंथी। विचारा को आगे बढ़ाने में कामरेड राय द्वारा कई महवपूर्ण एवं सामाजिक घटनाओं पर आधारित दस्तिवेज उपलब्ध है , जो कि उनकी धाराओं को आगे तदाकर मजदूर किसानो के दोनों को गति प्रदान करेगी उनके चिचारों को आगे बढ़ाना है , यही हमारी सच्ची श्रधांजलि होगी .

Related posts

बार अभ्यारण के गांव रामपुर में वनविभाग द्वारा मारपीट ,: राजकुमार को उठाया ,ग्रामीण चौकी पर रिपोर्ट दर्ज करने पहुचे , ग्रामीणों के खिलाफ ही रिपोर्ट दर्ज कर दी .

News Desk

लोकतांत्रिक इस्पात एवम इंजीनियरिंग मजदूर यूनियन ने आज भिलाई स्टील प्लान्ट के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के समक्ष प्रदर्शन किया और माँग की, कि आवंटित आवास की आड मे सक्षम अधिकारी द्वारा गैरकानूनी तरिके से प्रताड़ित किया जा रहा है .

News Desk

बोलती हुई औरतें, कितनी खटकती हैं ना..-जुलेख़ा जबीं

News Desk